ये था भारत का वो पहला कप्तान जिसने क्रिकेट में पाकिस्तान को पहली बार चटाई थी धूल

0 663

साल 1947 में जब अखंड भारत के टुकड़े हुए तब पाकिस्तान नाम का एक देश बना। आज भी दोनों देशों के बीच कोई मुकाबला होता है, तो वह रोमांच की सारी हदें तोड़ देता है। लाला अमरनाथ भारत के पहले ऐसे कप्तान थे, जिन्होंने पाकिस्तान को पटखनी दी थी। देश बंटने के बाद जब धीरे-धीरे भारत-पाकिस्तान के बीच स्थितियां सामान्य होने लगी तब साल 1952 में उनके नेतृत्व में टीम इंडिया ने पाकिस्तान को टेस्ट सीरीज में हराया। भारत के दौरे पर आई पाकिस्तान टीम की यह पहली टेस्ट सीरीज थी। पांच मैचों की सीरीज भारत ने 2-1 से जीती थी।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

क्रिकेट के कीर्तिमान सबसे ज्यादा लुभाते हैं। उसमें भी शतकों का रोमांच कुछ और ही होता है। टेस्ट क्रिकेट की बात की जाए, तो अब तक भारत की ओर से 85 बल्लेबाजों ने शतकीय प्रहार किए हैं। टेस्ट क्रिकेट में भारत की तरफ से अब तक 508 (100+) शतक लग चुके हैं। सचिन तेंदुलकर 51 टेस्ट शतक जमाकर भारत में ही नहीं विश्व क्रिकेट में भी सबसे ऊपर हैं, लेकिन आपको जानकर गर्व होगा कि भारत की ओर से पहला शतक जमाने का कीर्तिमान लाला अमरनाथ के नाम ही दर्ज है।

उन्होंने वो शतक अपने पदार्पण टेस्ट मैच में ही जमाया था। आज (बुधवार) लाला की 108वीं जयंती है। 11 सितंबर 1911 को उनका जन्म कपूरथला (पंजाब) में हुआ था। लाला अमरनाथ ने 17 दिसंबर 1933 को यानि 22 साल की उम्र में अपना पहला शतक जड़ा था। उन्होंने 22 साल की उम्र में टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू करते हुए इंग्लैंड के खिलाफ तत्कालीन बंबई के जिमखाना ग्राउंड पर 118 रनों की पारी खेली थी। हालांकि भारत वह टेस्ट मैच चौथे ही दिन लंच के बाद 9 विकेट से हार गया था, लेकिन लाला की वह सेंचुरी भारत की अभूतपूर्व उपलब्धि रही।

लाला अमरनाथ की जिंदगी में विवादों के साए भी खूब रहे हैं। ऐसे ही एक विवाद के कारण वो 12 सालों तक इंटरनेशनल क्रिकेट से दूर हो गये थे। दरअसल 1936 में इंग्लैंड दौरे के दौरान कप्तान महाराज कुमार ने ‘अनुशासनहीनता’ के कारण लाला अमरनाथ को विवादास्पद तरीके से वापस स्वदेश भेज दिया था। अमरनाथ ने आरोप लगाया था कि उन्हें राजनीतिक कारणों की वजह से बाहर किया गया। इसके बाद लाला अमरनाथ को अगला टेस्ट खेलने के लिए 12 सालों का इंतजार करना पड़ा।

Advertisement

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.