बैन है यें 5 बोल्ड फिल्में भारत में हैं, जिसमें एक बॉलीवुड की फिल्म भी हैं शामिल

3

पूरी दुनियां में बहुत प्रकार की फिल्में बनती हैं, जिसमे एक्शन, रोमांस और बेहतरीन लव स्टोरी का भरपूर तड़का होता हैं, और वह फिल्में दर्शकों के द्वारा बहुत सराहा भी जाता रहा हैं। लेकिन कुछ फिल्में ऐसी भी बनी, जो बहुत ही थी और भारत सहित कई अन्य देशो में बैन हो गई। क्यों की, वह फिल्में समाज में गलत संदेश देने के साथ-साथ और हिंसा को भी बढ़ा सकती थी। ऐसी ही कुछ फिल्में से आप सभी को परचित करवाने वाले हैं।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

There are 5 bold films in India, including one Bollywood film. बैन

1:- बेसिक इंस्टिंक्‍ट

साल 1992 में रिलीज़ हुई यह फिल्म भारत सहित कई अन्य देशो में भी बैन हैं। इस फिल्म में कई ऐसे बॉड सीन हैं, जो भारतीय समाज की दृष्टि से गलत माना जाता हैं।

2:- डेंजर्स लिएसन्स

साल 2012 में रिलीज़ हुई यह एक चाइनीज फिल्म हैं। डायरेक्टर हुर जिन हो की इस फिल्म की कहानी Pierre Choderlos de Laclos नाम के नोवल पर आधारित हैं। इस फिल्म की कहानी तो बहुत अच्छी हैं लेकिन कई बोल्ड सीन की वजह से भारतीय सेंसर बोर्ड ने इस फिल्म को भारत में बैन कर दिया था।

3:- 9 1/2 week

1886 में रिलीज़ हुई फिल्म ‘9 1/2 weeks’ एलिंजाबेथ मैकलीन की रचना ‘9 1/2 weeks’ पर आधारित हैं। यह फिल्म जॉन ग्रे और तलाक शुदा लड़की एलिंजाबेथ मैकग्रा के सेक्सुअल रिलेशन पर आधारित हैं।

4:- लास्ट टैंगो इन पेरिस

यह बोल्ड फिल्म हैं, जो भारत में बैन हैं। यह फिल्म इटली के रोमांटिक नाटक लास्ट टैंगो इन पेरिस पर आधारित हैं। इस फिल्म की कहानी में बहुत सारे हॉट सीन हैं जिसे भारतीय सेंसर बोर्ड ने गलत ठहराया और भारत में बैन कारदिया।There are 5 bold films in India, including one Bollywood film. बैन

5: फायर

साल 1996 में आई इस बॉलीवुड की फिल्म में दीपा मेहता के अभिनय को बहुत सराहा गया। लेकिन इस फिल्म से धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुचा और इस का शिवसेना और कई हिन्दू संगठनों ने विरोध किया और यह फिल्म भारत में बैन हो गई।

Advertisement

Comments are closed.