इन 6 राशियों की साढ़ेसाती हुई समाप्त, जल्दी मिलेगा वैवाहिक प्रस्ताव

122
शास्त्रों की बात करें तो चन्द्रमा के राशि परिवर्तन से साढ़ेसाती का अंत हो गया हैं। इसके अंत हो जाने से कुछ राशियों के लोगों को वैवाहिक प्रस्ताव मिल सकता हैं और उनके जीवन में खुशियां आ सकती हैं। साथ हीं साथ उस राशि के जातक विवाह के बंधन में बंध सकते हैं। आज इसी संदर्भ में ज्योतिष शास्त्र के अनुसार जानने की कोशिश करेंगे उन राशियों के बारे में जिन राशियों के लोगों को साढ़ेसाती के अंत होने से वैवाहिक प्रस्ताव मिल सकता हैं। तो आइये जानते हैं विस्तार से।
कन्या और मकर राशि, शास्त्रों के अनुसार साढ़ेसाती का अंत होने से कन्या और मकर राशि वाले लोगों के लगन भाव में विवाह योग का निर्माण हो रहा हैं। जिससे इस राशि वाले लोगों को वैवाहिक प्रस्ताव मिल सकता हैं तथा इनके जीवन में ख़ुशियों की वर्षा हो सकती हैं। इस राशि के वैसे लोग जिनकी शादी लंबे समय से ठीक नहीं हो पा रही हैं। उनके लिए यह समय सबसे अनुकूल हैं। इनकी कुंडली में ग्रहों का संयोग भी शुभ हैं। जिससे इनकी शादी ठीक हो सकती हैं और इन्हे बहुत जल्द वैवाहिक सुख मिल सकता हैं। अगर आप कन्या और मकर राशि के अविवाहित जातक हैं तो आप शिव पार्वती की आराधना करें।
वृष और मिथुन राशि, बहुत दिनों के बाद साढ़ेसाती का अंत होने से वृष और मिथुन राशि वाले लोगों की किस्मत खुल गयी हैं। जो लोग शादी करने के इच्छुक हैं उन्हें वैवाहिक प्रस्ताव मिल सकता हैं और इनकी शादी अच्छे घरों में हो सकती हैं। इनके लगन भाव में सूर्य, चंद्र और गुरु की स्थिति भी सबसे मजबूत हैं। जिससे इनके शादी विवाह की बाधाएं दूर होगी और इन्हे मनचाहा जीवनसाथी मिल सकता हैं। इस राशि के अविवाहित लोग बहुत जल्द विवाह के पवित्र बंधन में बंध सकते हैं। यह समय शादी विवाह के लिए अनुकूल हैं। आपको शिव पार्वती की उपासना करनी चाहिए।
तुला और कुंभ राशि, साढ़ेसाती के अंत होने से तुला और कुंभ राशि के लगन भाव में चन्द्रमा और गुरु मिलकर विवाह योग का निर्माण कर रहा हैं। जिससे इस राशि वाले लोगों को वैवाहिक प्रस्ताव मिल सकता हैं। इनके लिए अच्छे घरों से रिश्ते आ सकते हैं और माता पिता की सहायता से इनकी शादी पक्की जो सकती हैं। इनकी कुंडली में चन्द्रबल और गुरुबल भी काफी मजबूत हैं। जिससे इनके विवाह में आ रही परेशानियां दूर होगी और इन्हे मनचाहा लाइफ पार्टनर प्राप्त होगा। प्रेम विवाह करने की स्वीकृति भी मिल सकती हैं। अगर आप तुला और कुंभ राशि के जातक हैं तो आप भगवान शिव और माता पार्वती का दर्शन करें। आपके लिए शुभ रहेगा तथा वैवाहिक जीवन में खुशियां आएगी।
loading...

Advertisement

Comments are closed.