सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन, 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

Microsoft Layoff: Microsoft 11 हज़ार कर्मचारियों की छंटनी की तैयारी में

0 3


Microsoft Layoff News: साल 2023 की शुरुआत के साथ ही कई कंपनियों ने छंटनी की घोषणा कर दी है और अब सॉफ्टवेयर कंपनी माइक्रोसॉफ्ट भी बड़े पैमाने पर अपने कर्मचारियों को कंपनी से बाहर का रास्ता दिखाने की तैयारी में जुट गई है.

माइक्रोसॉफ्ट कंपनी (फाइल फोटो)

छवि क्रेडिट स्रोत: सोशल मीडिया

पिछले साल से दुनिया की कई नामी कंपनियों में कर्मचारी हैं छटनीदौर शुरू हो चुका है ट्विटर, अमेजन, मेटा, ओला समेत कई बड़ी कंपनियों के बाद अब सॉफ्टवेयर कंपनी माइक्रोसॉफ्ट आज से बड़े पैमाने पर अपने कर्मचारियों को कंपनी से बाहर का रास्ता दिखाने जा रही है. रॉयटर्स ने स्काई न्यूज के हवाले से यह जानकारी दी है। रॉयटर्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक, माइक्रोसॉफ्ट ने अपनी कंपनी के 5 फीसदी यानी करीब 11,000 कर्मचारियों की कटौती करने की योजना बनाई है। इसका मतलब है कि माइक्रोसॉफ्ट में आज से शुरू हो रही छंटनी से 11,000 कर्मचारी प्रभावित होंगे।

आप लोगों की जानकारी के लिए बता दें कि माइक्रोसॉफ्ट में छंटनी का असर इंजीनियरिंग विभाग पर पड़ेगा। कंपनी के इस फैसले से हजारों कर्मचारी बेरोजगार हो जाएंगे। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक माइक्रोसॉफ्ट में छंटनी का सबसे ज्यादा असर अमेरिकी टेक्नोलॉजी सेक्टर में देखने को मिलेगा.

छंटनी का कारण क्या है?

रॉयटर्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक पर्सनल कंप्यूटर मार्केट में पिछली कई तिमाहियों से गिरावट आ रही है। जिससे विंडोज और डिवाइसेज की बिक्री पर भी असर पड़ा है। इस सेक्टर में बिक्री घटी है। जिसके चलते कंपनी पर अपनी क्लाउड यूनिट एज़्योर में ग्रोथ रेट बनाए रखने का दबाव है।

गौरतलब है कि पिछले साल जुलाई में माइक्रोसॉफ्ट ने कुछ कर्मचारियों को कंपनी से बाहर का रास्ता भी दिखाया था। अक्टूबर 2022 में एक न्यूज साइट एक्सियोस ने बताया कि माइक्रोसॉफ्ट ने विभिन्न विभागों से करीब 1000 कर्मचारियों की छंटनी की है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पिछले साल 30 जून तक माइक्रोसॉफ्ट के वैश्विक स्तर पर 2,21,000 पूर्णकालिक कर्मचारी थे, जिनमें से 1,22,000 संयुक्त राज्य अमेरिका में कार्यरत थे, जबकि 99,000 अंतरराष्ट्रीय स्तर पर काम कर रहे थे।

माइक्रोसॉफ्ट का यह कदम इस बात का संकेत दे रहा है कि निकट भविष्य में सूचना प्रौद्योगिकी क्षेत्र में छंटनी जारी रह सकती है।

Advertisement

Leave A Reply

Your email address will not be published.