ISRO ने शुरू कर दिया है एक और मिशन की तैयारी

803
भारतीय स्पेस एजेंसी इसरो हर दिन एक नया नया मुकाम हासिल कर रहा हैं। जिसे देख पूरी दुनिया चकित हैं। इसरों 22 मई की सुबह श्रीहरिकोटा से रिसेट-2 बी उपग्रह का को लॉन्च करेगा। यह उपग्रह रिसेट सैटेलाइट सीरीज का चौथा उपग्रह होगा। इस उपग्रह की सेवा लगातार बनी रहे। इसके लिए इसरों 300 किलोग्राम के रिसेट-2 बी सैटेलाइट के साथ सिंथटिक अपचर रडार इमेजर को भेजेगा। 
भारतीय समय अनुसार 22 मई की सुबह 5:27 बजे इस उपग्रह को स्पेस में स्थापित किया जायेगा। अगर इसरो इस उपग्रह को स्थापित करने में कामयाब रहेगा तो इसे बड़ी उपलब्धि मानी जा सकती हैं। 
 
इतना ही नहीं इसरों में निकट भविष्य को देखते हुए रिसेट जैसे कम से कम छह उपग्रह लॉन्च करने की योजना बनाई हैं। इस उपग्रह से आपदा राहत कार्य में लगे लोगों और सुरक्षाबलों को काफी मदद मिलेगी। ये सैटेलाइट 500 किमी की ऊंचाई से ही देश की छमता बढ़ाएंगे। 
 
यह रिसेट सैटेलाइट हर मौसम चाहे रात हो, बदाल को या बरसात हो रही हैं। सभी स्थिति में ये तस्वीर जारी कर सकता हैं। क्यों की इस सैटेलाइट में ऑप्टिकल इमेजिंग सिस्टम को लगाया गया हैं। भारतीय राडार इमेजिंग उपग्रहों की सीरीज में रीसेट-2 बी लॉन्चिंग 22 मई की सुबह होगी। इसरों की ओर से बताया गया हैं की अगर मौसम सही रहा तो ये उपग्रह सही समय पर लॉन्च होगी। इसे 555 किलोमीटर की ऊंचाई पर स्थापित किया जायेगा। 
 
इस रीसेट 2-बी उपग्रह को पीएसएलबी-सी 46 से किया जायेगा। इस उपग्रह की सबसे खास बात यह हैं की ये उपग्रह पूरी तरह से देशी हैं और इसे भारत में ही बनाया गया हैं।  
loading...

Advertisement

Comments are closed.