सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन, 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

IND v WI: वेस्ट इंडीज चाहेगा बराबरी, भारत को लगाना होगा दम

239
तिरुवनंतपुरम
केरल के इस खूबसूरत शहर में 30 साल बाद भारत और वेस्ट इंडीज की टीमों के बीच वनडे मैच खेला जाएगा। तीन दशक पहले वेस्ट इंडीज की टीम टेस्ट और वनडे की सबसे शक्तिशाली टीम मानी जाती थी। उसे हराना भारत के लिए टेढ़ी खीर समझा जाता था। हालांकि अब परिस्थितियां बदल चुकी हैं।

भारत दुनिया की नंबर एक टेस्ट और नंबर दो वनडे टीम है जबकि वेस्ट इंडीज टेस्ट में आठवें और वनडे में नौवें नंबर की टीम है। उम्मीद के अनुरूप भारत ने दोनों टेस्ट मैच 3-3 दिन में जीतकर सीरीज 2-0 से जीतकर क्लीनस्वीप किया। पांच मैचों की वनडे सीरीज शुरू होने से पहले भारत की 5-0 से जीत के भी दावे किए जा रहे थे लेकिन फिलहाल सवाल है कि जीत मिलेगी या यह बराबरी पर खत्म होगी। उसे घरेलू धरती पर लगातार छठी द्विपक्षीय वनडे सीरीज जीतनी है तो आज का मैच हर हाल में जीतना होगा।

मौसम पर भी नजर
दूसरी ओर वेस्ट इंडीज टीम चाहेगी कि शाई होप और शिमरॉन हेटमेयर जैसे फॉर्म में चल रहे खिलाड़ी एक बार फिर विस्फोटक बैटिंग करें ताकि बड़ा स्कोर खड़ा कर किया जा सके। भारतीय टीम को विराट कोहली और रोहित शर्मा की फॉर्म पर भरोसा है जो सीरीज में मिलकर 700 से ज्यादा रन बना चुके हैं। यही नहीं भारत टॉप ऑर्डर में बदलाव करते हुए शिखर धवन की जगह लोकेश राहुल को मौका दे सकता है। कुल मिलाकर दोनों टीमें एक-दूसरे की कमजोरियों पर प्रहार करने के मूड में तो हैं लेकिन बारिश दोनों टीमों को अपनी रणनीति पर फिर से विचार करने पर मजबूर कर सकती है।

हाई स्कोरिंग सीरीज
सीरीज में अब तक बैट्समैनों का बोलबाला रहा है। चार मैचों में आठ सेंचुरी बनी है जिसमें से छह सेंचुरी भारत और दो मेहमान टीम की ओर से बनी है। दोनों ही टीमों ने तीन-तीन बार सीरीज में 250 प्लस का स्कोर बनाकर अपनी ताकत का एहसास कराया।

वेस्ट इंडीज के बल्लेबाजों ने अपनी बेखौफ बैटिंग से भारतीय बोलर्स को चौंकाया है। सीरीज में कुल 219 फोर और 66 सिक्स लगे हैं। 219 में से 130 फोर भारत तो 89 फोर कैरेबियाई टीम की ओर से लगे हैं। हालांकि सिक्स जड़ने के मामले में वेस्ट इंडीज टीम (37 सिक्स) भारत (29 सिक्स) से आगे निकल गई है। वेस्ट इंडीज की आक्रामक बैटिंग की धार को कुंद करने में मोहम्मद शमी और उमेश यादव पहले दो वनडे में सफल नहीं हुए तो तीसरे वनडे से भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमरा की स्टार जोड़ी को मोर्चे पर लगाना ही पड़ा।

राहुल को मौका!
लोकेश राहुल को वनडे में केवल 13 मौके मिले हैं। वजह है ओपनिंग स्लॉट में रोहित शर्मा और शिखर धवन जैसे दिग्गजों की मौजूदगी। सीरीज के पहले तीन मैचों में फेल रहने के बाद इस जोड़ी ने चौथे में 71 रन जोड़ बड़े स्कोर की नींव रखी। हालांकि आज रोहित-शिखर की जोड़ी खेलते हुए नहीं भी दिख सकती है क्योंकि टीम मैनेजमेंट शिखर के स्थान पर राहुल को उतार सकता है। शिखर ने एशिया कप के मैच में पाकिस्तान के खिलाफ 114 रन की पारी खेलने के बाद से एक भी फिफ्टी प्लस स्कोर नहीं बनाया है।

Advertisement

Comments are closed.