सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन, 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

99% लोगो को पता ही नहीं है केसर और दुध के, लाजवाब लाभ

250
केसर मीठे व्यंजनो में स्वाद, खुशबू के लिये जाणा जाता है केसर एक महंगी औषधी है. केसर के बारे में एैसा कहा जाता है की अगर चोट लगने पर या त्वचा जलने पर केसर का लेप लगाने से तुरंत फायदा मिलता है और नई त्वचा का निर्माण होता है. केसर का उत्पादन भारत के काश्मीर राज्य में होता है. केसर का गुण चरपरी, कडवी, कृमि, वर्ण, शिरोरोग, चिकणी, इस के सेवन से इन्सान को होने वाले तीन दोष दूर होते है.केसर का उपयोग कैसे करे शुद्ध घी में 2-3 केसर के तंतू मिलाकर घी गर्म करे और उसे सुंग ले अदा सिरदर्द कम होता है. केसर के 5 तंतू एक ग्लास दुध में डालकर गर्म करे फिर वह दुध पिणे से शरीर को पोषक तत्व मिलता है.
Related Posts

मकर राशि किसकी पूजा से खुलेगी किस्मत संसार की सबसे धनी राशि पर बना…

गर्भवती माँ के लिए सम्पूर्ण आहार? कैसा होना चाहिए, गर्भवती महिला का…

केसर को पीसकर इसका लेप चेहरे पर लगाने से चेहरे का रंग गोरा होता है. रात सोते समय दुध में केसर मिलाकर पीने से दुर्बलता और रक्तचाप में आराम मिलता हैउदरशुल से परेशान इन्सान केसर और दालचिनी की गोली बनाकर दिन में 3 बार पानी के साथ सेवन करणे से उदरशुल कम होता है. करेले का रस और केसर दोनो को एक साथ मिलाकर सेवन करणे से यकृतवृद्धी में लाभ होता है. सिरदर्द से परेशान व्यक्ती चंदन को घीसकर उस में एक तंतू मिलाकर माथे पर लगाने से आंखे और दिमाग में ठंडक मिलती है.

साथ ही सिरदर्द में आराम मिलता है.गैस, एसिडीटी, सर्दी, जुखाम ये रोगो से बच्चे या जवान परेशान है एैसे व्यक्ती को केसर का दुध सुबह शाम पिणे से राहत मिलती है. साथ ही सर्दी, जुखाम के कारण बच्चो में चिडचिडा पण आता है. एैसे समय केसर, लौंग, जायफल इन तीनो का लेप बनाकर बच्चो के नाक, छाती, पिठ और माथे पर लगाने से तुरंत सर्दी जुखाम कम होता है.अगर कोई स्त्री 3 महिने की गर्भ है एैसी स्त्री रात को सोने से पहिले एक ग्लास दुध में केसर के तीन तंतू मिलाकर दुध गर्म करके पिणे से होने वाला बच्चा बुद्धिवान, गोरा, सुंदर पैदा होता है. यह एक पुराणी कहावत है. मगर कोई सबूत नही परंतु केसर और दुध से लाभ होता है.

Advertisement

Comments are closed.