सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन, 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

2011-12 में 15 मैचों में हुई फिक्सिंग, पाक, इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर शामिल: रिपोर्ट

243

स्पोर्ट्स डेस्क, अमर उजाला Updated Mon, 22 Oct 2018 05:26 AM IST

Related Posts

अनिल कुंबले को पछाड़कर घरेलू मैदान पर टेस्ट में सर्वाधिक विकेट लेने…

ख़बर सुनें

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में भ्रष्टाचार का सनसनीखेज खुलासा हुआ है। अल जजीरा चैनल ने एक डॉक्यूमेंट्री रविवार को प्रसारित की, जिसमें खुलासा हुआ कि साल 2011-12 में कुल 15 अंतरराष्ट्रीय मैचों में फिक्सिंग हुई। डॉक्यूमेंट्री के मुताबिक 2011 से 2012 के बीच 15 इंटरनेशनल मैचों में 26 बार स्पॉट फिक्सिंग भी हुई। 

विज्ञापन

डॉक्यूमेंट्री में बताया गया है कि आईसीसी के रेडार पर चल रहे कथित मैच फिक्सर अनील मुनवर ने दावा किया है कि 2011 से 12 के दौरान 6 टेस्ट, 6 वन-डे और तीन वर्ल्ड टी-20 मुकाबलों में फिक्सिंग हुई। फिक्सर के मुताबिक 7 में इंग्लैंड, 5 में ऑस्ट्रेलिया, 3 में पाकिस्तान और एक में किसी दूसरे देश के क्रिकेटर ने फिक्सिंग की।

नील मुनवर

बता दें कि अल जजीरा पर जो डॉक्यूमेंट्री प्रसारित हुई, उसका नाम ‘क्रिकेट के मैच फिक्सर्स: द मुनवर फाइल्स’ है। यही नहीं, अगर रिपोर्ट की माने तो 2011 में भारत-इंग्लैंड के बीच खेला गया लॉर्ड्स टेस्ट, इस साल दक्षिण अफ्रीका-ऑस्ट्रेलिया का केपटाउन टेस्ट भी शक के घेरे में है। 2011 विश्व कप के 5 और 2012 वर्ल्ड टी20 के तीन मैचों में भी फिक्सिंग का दावा किया गया है। इसमें 2012 में यूएई में इंग्लैंड-पाकिस्तान के बीच हुए तीन टेस्ट मैचों में हुई सफल स्पॉट फिक्सिंग का भी जिक्र किया गया है।

डॉक्यूमेंट्री में मुनवर की 2011 विश्व कप में इंग्लैंड के क्रिकेटर से मैच के ठीक पहले बातचीत का उल्लेख भी किया गया है। मुनवर को कहते हुए सुना गया, ‘एशेज के लिए बधाई। पिछली बार के पैसे जल्द ही खाते में जाने वाले हैं। एक सप्ताह में पैसे मिल जाएंगे।’ इस पर खिलाड़ी का जवाब आता है, ‘बहुत खूब।’

अल जजीरा की डॉक्यूमेंट्री में पाक क्रिकेटर उमर अकमल का ‘डी कंपनी’ के एक सदस्य के साथ दुबई में इंग्लैंड के खिलाफ मैच से ठीक पहले एक होटल में मिलने का भी खुलासा हुआ। इसमें अकमल ‘डी कंपनी’ के सहयोगी व एक अन्य के साथ फोटो खिंचाते और एक बैग में कुछ देखते हुए नजर आए। 

अकमल ने जून 2018 में पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड की एंटी करप्शन यूनिट को एक फिक्सर द्वारा संपर्क किए जाने की जानकारी दी थी। इसमें उन्होंने हांगकांग सिक्सेज टूर्नामेंट, दक्षिण अफ्रीका से सीरीज और 2015 विश्व कप में भारत के खिलाफ मुकाबले से पहले फिक्सर के संपर्क करने की शिकायत की थी। उन्होंने बताया कि हांगकांग सिक्सेज टूर्नामेंट के दौरान दो गेंद बिना रन बनाए खेलने पर दो लाख डॉलर देने का ऑफर दिया गया था।

Advertisement

Comments are closed.