सभी पापों को दूर करने वाली नाग पंचमी राशि वाले क्या करें?

0

what-should-the-people-of-nag-panchami-do-who-can-remove-all-the-sins

अवनी हिंदू धर्म में सबसे पवित्र महीनों में से एक है। क्योंकि यह महीना भगवान शिव को समर्पित है। इसी प्रकार नाग पंचमी भी इस माह का एक महत्वपूर्ण त्यौहार है। नाग पंचमी के दिन भगवान शिव और नाग देवता की पूजा की जाती है। अवनि माह में नाग पंचमी मनाने की परंपरा है। इस दिन सभी नागा देवताओं की विशेष पूजा की जाती है और नागाओं को दूध से अभिषेक किया जाता है। तदनुसार, इस वर्ष 21 अगस्त को नाग पंचमी मनाई जाएगी नाग पंचमी का व्रत करने से सभी पापों से छुटकारा मिलता है और जीवन में सुख, शांति और समृद्धि प्राप्त होती है। माना जाता है कि इससे राहु, केतु और कालसर्प दोष से छुटकारा मिलता है। नाग पंचमी पर्व पर कुछ खास काम करना शुभ बताया गया है।

नाग पंचमी

मेष राशि: राहु ग्रह से जुड़े दोषों से मुक्ति पाने के लिए मेष राशि के जातकों के लिए रुद्राष्टाध्यायी स्तोत्र का पाठ बहुत शुभ माना जाता है।

वृषभ राशि नाग पंचमी के दिन तांबे का टुकड़ा बहते पानी में प्रवाहित या प्रवाहित करना चाहिए। इससे आपका भाग्य बढ़ सकता है.

मिथुन राशि वालों को नागपंचमी के दिन जरूरतमंद लोगों को हरे चने का दान करना चाहिए। ऐसा करने से कुंडली में राहु शांत हो जाएगा।

कर्क राशि के जातकों को नाग पंचमी के दिन बहते पानी में नारियल छोड़ना चाहिए और शिव मंदिर में जाकर नाग रूपी मूर्ति की पूजा करनी चाहिए।

सिंह राशि जातकों को नाग पंचमी के दिन जरूरतमंदों को नारियल का दान करना चाहिए। इससे आपकी सभी जरूरतें पूरी हो जाएंगी.

कन्या राशि नाग पंचमी के दिन कन्या राशि वालों को शारीरिक रोगों से पीड़ित लोगों की मदद करनी चाहिए। इससे आपकी स्वास्थ्य संबंधी सभी परेशानियां दूर हो जाएंगी।

तुला राशि वालों को नाग पंचमी के दिन घर में शिव मंत्र का जाप करना चाहिए। इससे घर में सुख-समृद्धि आती है।

वृश्चिक राशि वालों को नागपंचमी के दिन भगवान गणेश की पूजा करनी चाहिए और पीले फूल और लड्डू चढ़ाने चाहिए। इससे सब कुछ शुभ रहेगा.

धनु राशि के जातकों को नाग पंचमी के दिन आटे और चीनी के मिश्रण से भगवान शिव का अभिषेक करना चाहिए और फिर इसे गरीबों में बांट देना चाहिए।

मकर राशि के लोगों को नगर पंचमी के दिन जरूरतमंदों को भोजन कराना चाहिए। शिव लिंग पर काले तिल चढ़ाने चाहिए।

कुंभ राशि नागचमी के दिन बहते पानी में कोयला प्रवाहित करना चाहिए। ‘ओम नागदेवदाय नमः’ मंत्र का जाप करें।

मीन राशि  के जातकों को नागर पंचमी के दिन ओम नाम शिवाय मंत्र का जाप करके रुद्राभिषेक करना चाहिए।

Leave A Reply

Your email address will not be published.