सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन, 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

संन्यास को लेकर पहली बार सरदार सिंह ने दिया बयान, कहा- डेविड, मारिने का अच्छा नहीं था व्यवहार

208

इंडियन हॉकी टीम के पूर्व कप्तान सरदार सिंह ने ये दावा किया है कि मौजूदा हाई परफॉरमेंस निदेशक डेविड जॉन और पूर्व कोच सोर्ड मारिने के व्यवहार के कारण उन्होंने संन्यास लिया है। उनके अनुसार इन दोनों का व्यवहार उनके साथ बिल्कुल भी अच्छा नहीं था। जिस वजह से सितंबर में उन्हें अचानक से संन्यास लेना पड़ा गया था। पिछले साल ढाका में हुए एशिया कप मैच की घटना के बारे में जिक्र करते हुए अनुभवी खिलाड़ी सरदार सिंह ने बताया कि डेविड जॉन के कमरे में उन्हें बुलाया गया था। वहां पर सोर्ड मारिने भी मौजूद थे। इस टूर्नामेंट की विजेता भारतीय टीम रही थी।

आपको बता दें कि पूर्व कप्तान सरदार सिंह ने कहा कि ‘मुझे एशिया कप में पाकिस्तान के खिलाफ मैच से पहले उनके (जॉन) कमरे में बुलाया गया। कोच (मारिने) भी वहां मौजूद थे। जॉन ने कहा कि मैंने कई गलतियां की है और अकेले खेलने पर ध्यान दे रहा हूं। किसी महत्वपूर्ण मैच से पहले ऐसा सुनकर कैसा लगेगा आप यह समझ सकते हैं। वह इस बात को मैच के बाद भी कह सकते थे।’ बता दें कि ओमान में हुई एशियाई चैम्पियन ट्रॉफी के लिए एशियाई खेलों के बाद सरदार को चुनी गई टीम में जगह नहीं दी गई थी। जिस कारण वह अपने भविष्य के बारे में सोचने पर मजबूर हो गए।

उन्होंने बताया कि ‘मुझे विश्व हॉकी लीग और राष्ट्रमंडल खेलों जैसे महत्वपूर्ण टूर्नामेंटों के लिए नहीं चुना गया था।’ सरदार सिंह ने आगे कहा कि ‘मुझे लगा की टीम में फिर चुना जाएगा। मुझे जूनियर टीम के साथ मलेशिया भेज दिया गया। मैंने खुद से सवाल पूछना शुरू किया कि क्या चल रहा है। एशियाई खेलों के बाद मैं 2020 ओलंपिक तक खेलने के बारे में सोच रहा था। मै पूरी तरह फिट था, भारतीय टीम के सबसे फिट खिलाड़ियों में एक था। लेकिन फिर मैंने (टीम से दोबारा बाहर किये जाने के बाद) संन्यास लेने का मन बना लिया।’

The post संन्यास को लेकर पहली बार सरदार सिंह ने दिया बयान, कहा- डेविड, मारिने का अच्छा नहीं था व्यवहार appeared first on GyanHiGyan.

Advertisement

Comments are closed.