श्रावण मास के सोमवार को शिव पंचकिश्र स्तोत्र का पाठ करने से सर्प दोष होता है दूर

0

By reciting Shiv Panchkishra Stotra on Monday of Shravan month, snake defect goes away.

श्रावण मास महादेव का प्रिय महीना है और श्रावण मास में पड़ने वाले सोमवार बहुत खास होते हैं।इसकी पूजा पाठ करने से भगवान महादेव की कृपा प्राप्त होती है।

ज्योतिष शास्त्र में कालसर्प दोष को बहुत ही खतरनाक बताया गया है।
काल सर्प भक्त व्यक्ति के जीवन में तब होता है जब राहु और केतु कुंडली के एक ही तरफ हों और अन्य ग्रह उनके बीच आ जाएं।
महादेव की कृपा से सर्प दोष दूर हो जाता है इसलिए श्रावण मास के सोमवार को शिव पंचकिश्र स्तोत्र का पाठ करना अत्यंत लाभकारी होता है।
शिव पंचकिश्र स्तोत्र का महत्व:-
शिव पंचाक्षर स्तोत्र के 5 श्लोकों में ‘नाम शिवाय’ और महादेव का वर्णन है।
महादेव के शिव पंचकिशोर स्तोत्र का पाठ करने से रोग दूर होते हैं l
सोमवार के दिन इस स्तोत्र का पाठ करने से जीवन में सुख, समृद्धि और सौभाग्य आता है।
 इस स्तोत्र का नियमित पाठ करेंगे तो संतान का दुख दूर हो जाएगा
इस स्तोत्र का पाठ करते समय अरुआ हाथ में चावल और फूल रखें. स्तोत्र का पाठ करने के बाद इसे महादेव को अर्पित करें
Leave A Reply

Your email address will not be published.