“वायरल का मतलब क्लासिक नहीं” मशहूर सिंगर अन्वेषा और ऋषिकेष से खास बातचीत

0

सिंगर अन्वेषा और सिंगर ऋषिकेश इन दिनों मराठी फिल्म ‘पाहिजे जतिचे’ को लेकर सुर्खियों में हैं। प्रसिद्ध गायिका अन्वेषा ने फिल्म के लिए संगीत तैयार किया है, जबकि फिल्म के गाने लोकप्रिय गायक ऋषिकेष रानाडे ने गाए हैं।

कहने को तो यह फिल्म मराठी है लेकिन सोशल मीडिया पर दोनों गायकों की अच्छी खासी फैन फॉलोइंग है और बॉलीवुड दर्शक भी इन्हें खूब पसंद करते हैं। हाल ही में दोनों गायकों ने वन इंडिया फेसबुक लाइव पर खुलकर बात की और फिल्म, वर्तमान संगीत और अपनी आगामी परियोजनाओं के बारे में बात की।

आजकल संगीत इतना तेज़ हो गया है, गाने आते हैं और चले जाते हैं लेकिन लोगों को याद नहीं रहता, क्या तकनीक संगीत पर हावी हो रही है? इस सवाल का जवाब देते हुए ऋषिकेष रानाडे ने कहा कि इसमें कोई शक नहीं है कि इन दिनों बहुत सी चीजें बदल गई हैं, लेकिन वो चीजें स्थायी रहती हैं या प्रभाव डालती हैं, जिनके कंटेंट में दम है, जिनके संगीत और गीत में बहुत मेहनत की गई है।’

उन्होंने कहा कि ‘आजकल इतने गाने बन रहे हैं कि लोगों के पास ये सोचने का वक्त ही नहीं है कि अगर ये गाना अच्छा नहीं है तो क्यों नहीं?’ इसलिए मुझे लगता है कि लोगों को अच्छे गानों को प्रमोट करना चाहिए।’

अन्वेषा ने कहा, ‘मैं ऋषिकेश से पूरी तरह सहमत हूं। आज इंटरनेट पर बहुत कुछ है, हर चीज़ के दो पहलू होते हैं, अच्छा और बुरा। इंटरनेट ने चीजों को आसान बना दिया है और लोगों को बहुत सारे विकल्प दिए हैं, लेकिन हिट या क्लासिक की बराबरी कोई नहीं कर सकता क्योंकि यह वायरल हो जाता है, यह एक बेहद हिट गाना है, यह कालातीत है क्योंकि इसे पसंद करने वालों की संख्या के कारण यह क्लासिक नहीं बन जाता है। मिलता है.. लेकिन ‘लग जा गले’ अपनी क्षमता के कारण एक कालजयी क्लासिक है।

‘लेकिन केवल वे ही आगे बढ़ेंगे जिनकी सामग्री में वास्तव में ताकत है, इसलिए हर किसी को गुणवत्तापूर्ण काम पर ध्यान केंद्रित करना होगा, क्योंकि यह भविष्य में होगा। हो सकता है कि वर्तमान में कई ऐसी चीजों को बढ़ावा दिया जा रहा हो, जो ऊपर नहीं हैं। लक्ष्य तक, लेकिन भविष्य में केवल वही चीजें रहेंगी, जिनमें वास्तव में गुणवत्ता होगी।

आपको बता दें कि अन्वेषा और ऋषिकेष रैंड पहले भी फिल्म ‘सीता रामम’ में एक साथ कमाल कर चुके हैं. मालूम हो कि साल 2007 में वॉयस ऑफ इंडिया से अपने म्यूजिक करियर की शुरुआत करने वाली अन्वेषा ने बहुत कम उम्र में सफलता हासिल की है. उन्होंने हिंदी, बंगाली, मराठी जैसी कई भाषाओं में गाने गाए हैं।

अन्वेषा ने ‘गोलमाल रिटर्न्स’, ‘रांजना’, ‘रिवॉल्वर रानी’, लव यू सोनियो’, पंचलैट, ‘डेंजरस इश्क’, ‘आई एम बन्नी’, ‘कांची’, ‘प्रेम रतन धन पायो’, ‘एक्सपोज़’ में काम किया है। उन्होंने ‘गुरुदक्षिणा’, ‘वंसली’, ‘आई लव देसी’, ‘सीता रामम’, ‘धूप चैन’, ‘प्रेम रतन धन पायो’ जैसी फिल्मों में गाने गाए हैं।

तो वहीं ऋषिकेश रानाडे ने 35 से अधिक मराठी फिल्मों और 2 हिंदी फिल्मों के लिए प्लेबैक दिया है और वह सोशल मीडिया पर भी काफी लोकप्रिय हैं। ऋषिकेश रानाडे ने कई स्टेज शो किए हैं और वह मराठी संगीत का जाना माना चेहरा हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.