सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन, 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

वसंत पंचमी का पीले रंग से है विशेष संबंध, जानें किस वस्तु का दान लाभकारी होता

0 2

 

वसंत पंचमी खुशी, उल्लास और प्रेम का त्योहार है। माघ महीने के पांचवें दिन देवी सरस्वती प्रकट हुईं। इस दिन को वसंत ऋतु की शुरुआत माना जाता है, इसलिए इसे वसंत पंचमी पंचमी कहा जाता है। वसंत ऋतुओं का राजा है। इस बार वसंत पंचमी 14 फरवरी 2024 को है. इस दिन पीले रंग का विशेष महत्व होता है। आइए जानें क्यों.

वसंत पंचमी पर पीले रंग का महत्व

पीला रंग शुभता, समृद्धि और खुशहाली का प्रतीक है। हमारे देश में साधु-संत पीले वस्त्रों का प्रयोग करते रहे हैं। पीला सूर्य का रंग भी है, जो ऊर्जा और उत्साह का प्रतीक है, वसंत के आगमन के साथ ठंड कम होने लगती है, फूलों में नए रंग और पेड़ों में नए पत्ते दिखाई देने लगते हैं। कड़ाके की सर्दी के बाद सूरज की गर्मी का एहसास होने लगता है। जैसे मानसून में सब कुछ हरा-भरा दिखता है, वैसे ही वसंत में हर जगह पीला रंग नजर आता है।

ज्योतिष में पीला रंग बृहस्पति ग्रह से जुड़ा है

पीली सरसों, पीले वस्त्र, पीले पतंगे, पीली मिठाई। ज्योतिष में पीला रंग बृहस्पति ग्रह से जुड़ा है। जो ज्ञान, विद्या, अध्ययन, विद्वता, बौद्धिक उन्नति आदि का प्रतीक है। देवी सरस्वती की कृपा से व्यक्ति बुद्धिमान और कला में निपुण होता है। यही कारण है कि वसंत पंचमी के दिन पीला रंग पहनना, पीली वस्तुओं का सेवन करना और पीली वस्तुओं का दान करना शुभ माना जाता है।

वसंत पंचमी पर पीले रंग का उपाय

वसंत पंचमी के दिन दूध में हल्दी मिलाकर मां सरस्वती का अभिषेक करें। सुखी वैवाहिक जीवन और करियर में उन्नति के लिए ये उपाय कारगर हैं।

यदि पढ़ाई में किसी प्रकार की बाधा आ रही हो तो वसंत पंचमी के दिन 108 पीले गेंदे के फूल से मां सरस्वती की पूजा करें।

वसंत पंचमी के दिन बेसन के लड्डू या बर्फी में थोड़ा सा केसर मिलाकर देवी सरस्वती को अर्पित करें और फिर 7 कन्याओं में बांट दें। मान्यता है कि ऐसा करने से मां लक्ष्मी के साथ-साथ मां सरस्वती की भी कृपा प्राप्त होती है।

इस दिन पीले रंग की वस्तुएं जैसे केला, सेम, पीले फूल, पीले कपड़े, शिक्षा संबंधी वस्तुएं दान करने से बुद्धि का विकास होता है और वाणी में सुधार होता है।

Advertisement

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.