रोजाना करें चंद्र देव की आरती, मिलेगी सफलता की शक्ति

0

Perform Aarti of Chandra Dev daily, you will get the power of success

चंद्र देव शीतलता, सौंदर्य और सफलता के प्रतीक हैं। इनकी पूजा करने से तीनों चीजें प्राप्त होती हैं। यदि परिवार में सुख नहीं है। और आए दिन लगातार झगड़े हो रहे हैं. इसलिए हर रात चंद्रमा की आरती करनी चाहिए। ऐसा करने से कलह दूर होती है। और सुख शांति बन जाता है.

ॐ जय सोम देवा, स्वामी जय सोम देवा
प्रसन्न थे, जय आनंदकारी
रजत सिहासन रजत, ज्योति तेरी न्यारी दीन
दयाल दयानिधि, भव बंधन हरि
जो कोई आरती तेरी गाए, प्रेम सहित
सकल मनोरथ दायक, निर्गुण सुखराशी
ब्रह्मा विष्णु सदाशिव, संत दो सेवा
बैद पुराण बखानत, भय पातक हरि
प्रेमभाव से पूजे, सब जग के नारी
सरनागत पृपालक, भक्तन हितकारी
धन, सम्मति या वैभव, सहज ही सो जाते हैं
विश्व चराचर पलक, ईश्वर अविनाशी
सब जन के नारी, पाठ पूजा

चंद्र देव की आरती किस समय होती है?
शाम को चंद्र देव की आरती होती है.
चंद्र देव की आरती कितनी बार करनी चाहिए?
दिन में एक बार चंद्र देव की आरती करनी चाहिए।
चंद्र देव की आरती के नियम
चंद्र देव की आरती करते समय आपका मन और शरीर दोनों स्वच्छ होना चाहिए। आप स्नान करके साफ कपड़े पहनकर आरती कर सकते हैं।
कब और कैसे करें चंद्र देव की पूजा
अगर आप सफलता, शांति, प्रेम और धन की कामना रखते हैं तो देवी गौरी की पूजा कर सकते हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.