सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन, 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

रामबाण औषधि है धतूरा, जानें इस्तेमाल का सही तरीका गुणकारी, इन बीमारियों में है फायदेमंद

259

धतूरा शिव जी को चढाने से मनचाहा फल मिलता है लेकिन क्या आपको पता है धतूरे में कई औषधीय गुण होते है धतूरे फूल से लेकर जड़ तक ओषधि से भरा हुआ है

जड़ से लेकर फूल तक धतूरे की हर एक चीज़ है बेहद गुणकारी,इन बीमारियों का भी कर देता है चुटकियो में इलाज

इसके उपयोग से बुखार, सायटिका, गठिया, पेट रोग आदि तमाम रोगों में छुटकारा मिलता है  धतूरे के उपयोग से

किन बीमारियों को दूर bhgaya जा सकता है |

धतूरा गठिया के रोग में लाभदायी है इसके लिए धतूरे के पंचाग का रस निकालकर उसे तिल के तेल में पका ले |

फिर उस तेल से मालिश करके धतूरे के पत्ते को बाँध ले गठिया रोग की समस्या से छुटकारा मिलेगा |

यदि पैरो की सूजन से परेशां है तो धतूरे के पत्ते को पीस कर सूजन वाली जगह पर लगाने से सूजन में आराम

मिलता है |

जिन औरतो को गर्भधारण करने में दिक्कत आती है |धतूरे के फल का 2.5 ग्राम चूर्ण लेकर उसमें आधा चम्‍मच

गाय का दूध मिला कर रोज शहद के साथ चाटना चाहिए इससे जल्द गर्भधारण करने में मदद मिलेगी |

कान के दर्द को दूर करने के लिए सरसो के तेल और गंधक के साथ थोड़े से धतूरे के पत्ते का रस मिलाये फिर इसे

धीमी आंच पर पकाले और कान में दो बुँदे डाले |

मलेरिया की बुखार में धतूरे के पत्तो को काली मिर्च बराबर मात्रा में गिनकर पीस ले और इस चूर्ण की छोटी छोटी

गोलियाँ बना ले और दिन में दो बार 1 -1 गोली का सेवन करे मलेरिया की बुखार में फायदा मिलेगा |

अगर दांत के दर्द से परेशां है तो धतूरे को बीज को पीस कर उसे थोड़ी मात्रा में दाढ़ की खाली जगह में भर ले इससे

दांत के कीड़े खतम हो जायेंगे और दांत के दर्द से राहत मिलेगी |

Advertisement

Comments are closed.