सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन, 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

ब्रेस्ट फीडिंग से मां को होते हैं, यें गजब के 6 फायदे

100

बच्चे को स्तनपान यानी ब्रेस्टफीडिंग कराना उसके विकास और वृद्धि के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। माँ के दूध में वे सभी आवश्यक पोषक तत्व होते हैं जो एक बच्चे को उसके पहले 6 महीनों में प्राप्त करना जरूरी हैं। इसलिए ब्रेस्टफीडिंग कराने वाली मांओं को बहुत सावधानी से अपने आहार को चुनना चाहिए। यदि आपका बच्चा हाल ही में जन्मा है तो आपने महसूस किया होगा कि ब्रेस्टफीडिंग या माँ का दूध पेरेंटिंग का एक आवश्यक हिस्सा है। चूंकि इस समय माँ का दूध बच्चे के न्यूट्रिशन का एकमात्र स्रोत है इसलिए यह कहने की आवश्यकता नहीं है

ब्रेस्ट फीडिंग से मां को होते हैं यें गजब के 6 फायदे:

स्तनपान कराने से मां को प्रेग्नेंसी के बाद होने वाली समस्याओं से निजात मिल जाती है। जैसे तनाव और

रक्तस्राव जैसी समस्याओं पर जल्द नियंत्रण पाया जा सकता है।

स्तनपान कराने से माताओं को स्तन और गर्भाशय में होने वाले कैंसर का खतरा काफी हद तक कम हो जाता है।

स्तनपान कराने से खून की कमी से होने वाले रोग एनिमिया का खतरा कम होता है।

मां और शिशु के बीच भावनात्मक रिश्ता मजबूत होता है। बच्चा अपनी मां को जल्दी पहचानने लगता है।

स्तनपान के लिए आप अधिक कैलोरी का इस्तेमाल करती हैं । यह प्राकृतिक तरीके से आपके वजन को कम

करने के साथ आपको मोटापे से भी बचाए रखने में आपकी मदद करता है।

स्तनपान करानेवाली माताओं को स्तन या गर्भाशय के कैंसर का खतरा कम होता है। स्तनपान एक प्राकृतिक

गर्भनिरोधक है।

Advertisement

Comments are closed.