सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन, 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

बागेश्वर धाम सरकार के धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री जानिए कैसे जानें लोगों के मन की बात, ऐसे खोला उन्होंने खुद राज

0 3




dhiirendr


मध्य प्रदेश के छतरपुर में बागेश्वर धाम के प्रमुख धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री भले ही विवादों का सामना कर रहे हों और लोगों की चुनौतियों को स्वीकार कर रहे हों, लेकिन क्या आप जानते हैं कि कैसे धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री आपको बताए बिना ही लोगों के मन की बात जान लेते हैं। ? दरअसल बागेश्वर धाम सरकार के नाम से मशहूर धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री ने खुद इस रहस्य से पर्दा उठाया है।

बागेश्वर महाराज पर अंधविश्वास फैलाने का आरोप लगाया जा रहा है. बाबा कभी रावण से फोन पर बात करते हैं तो कभी लोगों के मन की बात कर चर्चा में बने रहते हैं। उनके तमाम वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होते रहते हैं। एक समय उनके दादा भी बागेश्वर धाम के इस मंदिर में पुजारी थे। वह अपने दादा को अपना गुरु मानते हैं। वह लोगों को अपनी धार्मिक ज्ञान शक्तियों से जोड़ने लगा। इस वजह से पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री को बागेश्वर धाम का महाराज कहा जाने लगा। यह भी कहा जाता है कि धीरेंद्र शास्त्री के दादाजी ने सिद्धि प्राप्त की थी। धीरेंद्र शास्त्री कहते हैं कि उन्होंने अपने दादा से रामकथा सीखी। अत: वह अपने दादाजी की भाँति प्रत्येक शनिवार एवं मंगलवार को दिव्य दरबार लगाते हैं।

दिव्य दरबार से कीर्ति देश-विदेश में पहुंची
धीरेंद्र शास्त्री दिव्य दरबार की वजह से मशहूर हुए हैं। जो भी लोग यहां अपनी व्यथा व्यक्त करने आते हैं, महाराजजी उनसे बिना पूछे ही वह बात पहले एक कागज के टुकड़े पर लिख देते हैं। अब ये सब देखकर याचिकाकर्ता भी हैरान है और ये सब देख रहे लोग भी हैरान हैं. उनके कई वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुए, जिससे वह आज पूरी दुनिया में मशहूर हैं। आपको बता दें कि पंडित धीरेंद्र को लंदन की संसद में 14 जून 2022 को 3 पुरस्कारों संत शिरोमणि, वर्ल्ड बुक ऑफ लंदन और वर्ल्ड बुक ऑफ यूरोप से सम्मानित किया गया था। उन्हें यह सम्मान उनके सामाजिक और धार्मिक सेवा कार्यों के लिए मिला है। ब्रिटिश संसद में उनके सम्मान में जय श्री राम के नारे भी लगे।

जिन्होंने उन पर अंधविश्वास का आरोप लगाया था

महाराष्ट्र की अखिल भारतीय अंधविश्वास उन्मूलन समिति ने धीरेंद्र शास्त्री पर अंधविश्वास का आरोप लगाया है। अंधविश्वास फैलाने का आरोप लगाने वालों की चुनौती धीरेंद्र शास्त्री ने स्वीकार की है। उन्होंने अखिल भारतीय अंधविश्वास उन्मूलन समिति के उपाध्यक्ष श्याम मानव व अपने लोगों को रायपुर बुला लिया है और कहा है कि यहां आने का टिकट वे खुद देंगे. लेकिन समिति के उपाध्यक्ष श्याम मानव इसे नहीं मानते हैं। उनका कहना है कि यह चैलेंज नागपुर में 10 लोगों के बीच ही पूरा होगा।
जानें कि बाबा कैसे दिमाग पढ़ सकते हैं

लोगों के मन की बात बिना बताए कैसे जान लेते हैं, इसका रहस्य बागेश्वर महाराज ने स्वयं प्रकट किया है। वह खुद इसे भगवान का वरदान और हनुमानजी की कृपा मानते हैं। वहीं, इसे वह अपने दादा का आशीर्वाद मानते हैं।

अधिक पढ़ें




पिछला लेखसीएनजी कार खरीदने की सोच रहे हैं? यह देश की सबसे लोकप्रिय सीएनजी कार है
अगला लेखशुक्र शनि की युति: इन राशियों पर होगी धन की बरसात, कहीं आपकी राशि तो नहीं है शामिल?

Advertisement

Leave A Reply

Your email address will not be published.