सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन, 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

दो बूंद देसी गाय का घी नाक में डालने से होते हैं ये 7 फायदे, इतने फायदे आपने सुने भी नहीं होंगे

319

हेल्थ डेस्क : देसी गाय का घी बहुत ही शुद्ध और पवित्र माना जाता है। इसलिए खाने के अलावा इसका प्रयोग पूजा पाठ के लिए भी किया जाता है। इसके साथ ही एक बहुत ही कारगर औषधि भी है, जो कई प्रकार की बीमारियों को दूर करने की क्षमता रखता है। औषध आचार्य डॉ अश्विनी बताते हैं कि देसी गाय के घी का प्रयोग कई तरह के औषधीय उपचार में भी किया जाता है। इस आर्टिकल में हम आपको गाय के घी को नाक में डालने के औषधीय उपचार एवं उससे होने वाले लाभ के बारे में बताएंगे।

बालों का झड़ना रोके –

किसी व्यक्ति को यदि ज्यादा बाल झड़ने या गंजेपन की समस्या हो रही है। उसके लिए गाय के घी का उपचार कारगर होता है। इसके लिए रात को सोने से पहले देसी गाय के घी में से दो बूंद नाक में डालें। इससे बालों के झड़ने की समस्या कम हो जाएगी। साथ ही बाल तेजी से बढ़ने लगेंगे।

एलर्जी दूर करने में उपयोगी –

एलर्जी की समस्या से पीड़ित व्यक्ति के लिए भी गाय का घी लाभकारी होता है। इसकी दो बूंदें नाक में डालने से एलर्जी की समस्या से छुटकारा मिलता है। इसके प्रयोग से तनाव से भी राहत मिलती है और साथ ही मानसिक शांति प्राप्त होती है।

माइग्रेन से छुटकारा –

देसी गाय का शुद्ध घी माइग्रेन जैसी पीड़ादायक समस्या में भी फायदेमंद होता है। इस घी की दो बूंदें सुबह और शाम नाक में डालने से माइग्रेन का दर्द कम हो जाता है। अनिद्रा की समस्या दूर होती है और रात को अच्छी नींद आती है। साथ ही साथ यह यादाश्त को तेज करने में भी मदद करता है।

खुश्की दूर करे –

गाय का घी नाक में डालने से नाक की खुश्की दूर होती है और नमी बनी रहती है। साथ ही साथ इससे हमारा मूड भी तरोताजा बना रहता है।

खर्राटे आने की समस्या ठीक करे –

बहुत से लोगों को रात में सोते वक्त खर्राटे आने की समस्या होती है। वास्तव में ऐसा स्वास नली के अवरुद्ध होने के कारण होता है। ऐसे में गाय के घी का उपयोग करना उचित माना जाता है। यह श्वास नली को खोलने में सहायता करता है। इसके लिए रात को सोने से पहले देसी गाय के घी को गुनगुना करके उसमें से एक एक बूंद नाक के दोनों छेदों में डालें। इससे खर्राटे आने की समस्या धीरे धीरे ठीक हो जाएगी।

जुकाम में फायदेमंद –

सर्दी जुकाम में भी नाक में गाय का घी डालना फायदेमंद रहता है। इसके लिए गाय के घी को थोड़ा सा गर्म कर लें और नाक के दोनों छिद्रों में दो बूंद डालें। इससे जुकाम से जल्दी राहत मिल जाएगी।

गाय का घी खाने के फायदे –

ऊपर बताए हुए उपचार के अलावा यदि आप देसी गाय का घी अपने भोजन में भी शामिल करते हैं तो इससे और भी बहुत सी समस्याएं दूर रहेंगी। जैसे देसी गाय का घी खाने से हार्ट ब्लॉकेज कभी नहीं होता है और दिल हमेशा स्वस्थ रहता है। इसके अलावा इसमें उपस्थित विटामिन हमारी हड्डियों को मजबूत बनाने में सहायता करता है। गरभवती स्त्रियों के लिए भी गाय के घी का सेवन करना अति उत्तम होता है। इससे होने वाला बच्चा निरोग, तंदुरुस्त और बुद्धिमान होता है। ध्यान रखें कि गाय का घी देसी गाय के दूध से ही निकाला हुआ होना चाहिए, तभी इसका पूर्ण लाभ मिल पाएगा, अन्यथा नहीं।

Advertisement

Comments are closed.