सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन, 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

दो कप से ज्यादा कॉफी पीते हैं तो हो जाएं सावधान, हाई बीपी के मरीजों को है मौत का खतरा

6
Be careful if you drink more than two cups of coffee, high BP patients are at risk of death

कॉफी सभी लोगों की पहली पसंद होती है। कॉफी पीना भी कई तरह से फायदेमंद होता है, लेकिन अब अमेरिकी शोधकर्ताओं का दावा है कि दिन में दो या इससे ज्यादा कप कॉफी पीने से गंभीर हाई बीपी वाले लोगों में हृदय रोग से मौत का खतरा दोगुना हो सकता है। अध्ययन के निष्कर्ष जर्नल ऑफ द अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन में प्रकाशित हुए थे। साथ ही, अध्ययन में यह भी कहा गया है कि प्रति दिन एक कप कॉफी या एक कप ग्रीन टी पीने से किसी भी रक्तचाप माप पर हृदय रोग से मृत्यु के बढ़ते जोखिम से जुड़ा नहीं था।

हाई बीपी के मरीजों पर पहली बार प्रयोग

हालांकि, पिछले शोध ने सुझाव दिया था कि एक कप कॉफी पीने से दिल का दौरा पड़ने के बाद मृत्यु के जोखिम को कम करने और स्वस्थ व्यक्तियों में दिल का दौरा या स्ट्रोक को रोकने में मदद मिल सकती है। नए अध्ययन का उद्देश्य यह निर्धारित करना है कि कॉफी का सुरक्षात्मक प्रभाव उच्च रक्तचाप की अलग-अलग डिग्री वाले व्यक्तियों पर भी लागू होता है या नहीं। इसके अलावा, शोधकर्ताओं ने उसी आबादी में ग्रीन टी के प्रभावों की भी जांच की।

अध्ययन के वरिष्ठ लेखक हिरोयासु इसो ने कहा कि यह पहला अध्ययन है जिसमें गंभीर हाई बीपी वाले लोगों में प्रति दिन 2 या अधिक कप कॉफी पीने और हृदय रोग मृत्यु दर के बीच संबंध खोजने की कोशिश की गई है।

कॉफी में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं

हालांकि, पिछले शोध में कहा गया था कि कॉफी में एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा अधिक होने के कारण यह शरीर की कोशिकाओं को होने वाले नुकसान को रोकता या कम करता है। कॉफी पीने से मृत्यु दर कम होने के साथ-साथ उम्र से संबंधित पार्किंसंस रोग, हृदय रोग, टाइप-2 मधुमेह, लीवर, प्रोस्टेट कैंसर सहित कई बीमारियों के जोखिम को कम करने के लिए दिखाया गया है, हालांकि यह कॉफी हृदय रोगियों के लिए घातक साबित हो सकती है।

Advertisement

Comments are closed.