सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन, 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

दुनिया की सबसे लोकप्रिय दवा से कई ज्यादा बेहतर है ये आयुर्वेदिक नुस्खा

414

इस दुनिया में बहुत सारे लोग आपको ऐसे मिल जाएंगे, जो यौनसुख(सेक्स) के लिए “वियाग्रा” या इसके जैसी दवाओं का सेवन करते हैं।

चूंकि वियाग्रा वेस्टर्न दवा है, इसलिए इसे धुंआंधार प्रचार मिला।आज वियाग्रा यौनसुख(सेक्स) के लिए दूनिया की सर्वाधिक बिकने वाली दवा है।हालांकि इसके दर्जनों “साईड इफेक्ट” है।

यह दवाईयाँ तात्कालिक लाभ तो देती है, लेकिन कई तरह के साइड इफेक्ट तोहफे में दे जाती है।
और ये साइड इफेक्ट गंभीर बीमारी का रुप ले लेते है।लोग कभी समझ ही नहीं पाते, कि ये बीमारी गलत दवाओं का नतीजा है।

दूसरी तरफ आयुर्वेद में बिना किसी साइड इफेक्ट के इससे बेहतर नुस्खा मौजूद है, मगर अफसोस कि आयुर्वेद को कोई प्रचार ही नहीं मिला।

हजारों वर्ष पहले आयुर्वेद ने यौनसुख के बहुत ही आसान उपाय बताए हैं।जो न केवल गुणकारी और लाभदायक.है, अपितु शक्तिवर्धक भी है।
नुस्खा इस प्रकार है।

सामग्री-

एक सफेद प्याज
एक गांठ अदरक
लहसुन तीन कली
शहद दो-तीन चम्मच(खाना खाने वाला)

विधि-

पहले लहसुन और अदरक को छीलकर कूट लें।और दो तीन मिनट रहने दें।

तबतक सफेद प्याज का रस निकालकर दो चम्मच (खाना खाने वाला) लें।

दो तीन चम्मच शहद लें।

इन सभी सामग्रियों को एक साथ मिला लें।

  • नाश्ते से 10-15 मिनट पहले और दोपहर को भोजन से 10-15 मिनट पहले इसका सेवन करें।
  • अथवा सीधे-सीधे दोगुनी मात्रा मे सामग्री मिलाकर सुबह रोटी के साथ नाश्ते में खा लें।

पहले नुस्खे को एक दिन छोड़कर पूरे हफ्ते इसका प्रयोग करें इसके प्रयोग से साथ में सुबह शाम व्यायाम भी करते रहे।

दूसरे नुस्खे को रोजाना करें।

याद रहे कि आपको एक ही नुस्खे का प्रयोग करना है।

परिणाम-

इस नुस्खे के सेवन के साथ व्यायाम करने के दर्जनों आश्चर्यजनक फायदों मे से कुछ इस प्रकार है।

  • स्पर्म काउंटिंग मे तीव्र गति से बढ़ोतरी होगी।अतः
    “ध्यान रहे” कि शादीशुदा लोग ही इसका प्रयोग करें। अन्यथा सेक्स की प्रबल इच्छा को रोकना मुश्किल हो जाएगा।

स्पर्म क्वालिटी मे तेजी से सुधार होगा जिससे स्त्री के गर्भ धारण की संभावना कई गुना बढ़ जाएगी।

अर्थात जिन पूरुषों मे बच्चा पैदा करने की क्षमता कम हो अथवा ना हो उनके लिए वरदान है यह नुस्खा।

रक्त का संचार तेज होगा, जिससे हृदय की धमनियों मैं जमी चर्बी गलने लगेगी।
जिससे हृदय रोगों के होने की संभावना कम होगी

भूख बढ़ेगी।
पेट की चर्बी कम होगी।
शरीर में स्फूर्ति महसूस होगी।
अच्छी नींद आएगी।

किंतु साथ में सुबह शाम व्यायाम अति आवश्यक है ताकि आपका भोजन और दवा अच्छे से हजम हो सके और शरीर को लाभ पहुंचा सके

ध्यान रखने वाली बात –
1-अगर आप पहले से कोई एलोपैथिक दवा ले रहे हैं तो इसका प्रयोग कदापि ना करें।
2-रात में इसका सेवन ना करें।
3-सुबह जल्दी उठें, और रात को जल्दी सो जाऐं।
4-अगर पहले से कोई रोग हो तो अपने डॉक्टर को पूछकर प्रयोग करें।

Advertisement

Comments are closed.