तनाव से होने वाली घातक बीमारी के लिए आयुर्वेदिक उपचार, 7 आयुर्वेदिक उपचार काम करेंगे

Ayurvedic treatment for fatal stress-related illness, 7 Ayurvedic remedies will work

आज के तेजी से बदलते दौर में तनाव की समस्या बहुत आम हो गई है और लोग अपने तनाव से निजात पाने के लिए आयुर्वेदिक उपायों का सहारा ले रहे हैं। आर्युनवेद प्राचीन चिकित्सा पद्धति है। इसका उपयोग स्वास्थ्य और कल्याण को बढ़ाने के लिए एक प्राकृतिक उपचार के रूप में किया जाता है। कुछ आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियाँ, तेल और अभ्यास तनाव को कम करने और विश्राम को बढ़ावा देने में मदद करते हैं, जैसे ध्यान, प्राणायाम और योग। वे शरीर, मन और आत्मा को संतुलित करने का काम करते हैं। इसलिए तनाव से निपटने के लिए आयुर्वेदिक उपायों का इस्तेमाल करना बहुत फायदेमंद होता है। आइए जानते हैं कुछ आयुर्वेदिक उपायों के बारे में, जिनके जरिए तनाव से मुक्ति पाई जा सकती है।

अश्वगंधा

यह जड़ी बूटी तनाव को कम करने में मदद करती है। अश्वगंधा की जड़ को चूर्ण बनाकर गर्म पानी के साथ सेवन किया जा सकता है।

ब्राह्मी

ब्राह्मी दिमाग को शांत करने और तनाव को कम करने में मदद करती है। ब्राह्मी चाय बनाकर पी सकते हैं।

जटामांसी

जटामांसी तनाव को शांत करने और कम करने के लिए उपयोगी है। इसे पाउडर में बनाया जा सकता है और गर्म पानी से सेवन किया जा सकता है।

योग और प्राणायाम

योग और प्राणायाम तनाव को कम करने में मदद करते हैं। योग में विभिन्न आसन होते हैं, जो तनाव को कम करने में मदद करते हैं। प्राणायाम मन की शांति लाने में मदद करता है।

सरसों का तेल

सरसों का तेल शरीर में तनाव को कम करने में मदद करता है। इसे नाभि पर लगाकर मालिश की जा सकती है।

तुलसी का पौधा

तुलसी तनाव कम करने में मदद करती है और मन की शांति देती है। आप तुलसी की चाय बनाकर पी सकते हैं।

सफेद मूसली

सफेद मूसली तनाव कम करने और एनर्जी बढ़ाने में मदद करती है। इसे पाउडर के रूप में लिया जा सकता है।

 

Comments are closed.