टेक्नोलॉजी सेक्टर में बढ़ने वाली है भारत की मांग, इस चिप के लिए दुनिया भर के देशों में लगेगी लाइन

0

India's demand is going to increase in technology sector, countries around the world will line up for this chip

एक बार भारत में सेमीकंडक्टर का निर्माण हो जाने के बाद, स्मार्टफोन, कंप्यूटर, लैपटॉप, चिकित्सा उपकरण, घरेलू उपकरण और गेमिंग हार्डवेयर की कीमतें काफी कम हो जाएंगी। पीएम नरेंद्र मोदी भारत के अपने सेमीकंडक्टर चिपसेट बनाने के सपने को जल्द से जल्द पूरा करना चाहते हैं।

हमारे द्वारा उपयोग किए जाने वाले 90 प्रतिशत इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों में सेमीकंडक्टर चिप्स का उपयोग किया जाता है। दुनिया भर के इलेक्ट्रॉनिक्स बाजार इसी एक चिप पर निर्भर हैं। इसका उपयोग सस्ते मोबाइल फोन से लेकर अरबों डॉलर के सैटेलाइट तक हर चीज में किया जाता है। यदि किसी भी कारण से कमी होती है तो इसका असर पूरी दुनिया पर पड़ेगा। भारत अभी सेमीकंडक्टर के लिए दूसरे देशों पर निर्भर है, इसलिए यहां इलेक्ट्रॉनिक उपकरण काफी महंगे हो गए हैं, लेकिन अब यह समस्या जल्द ही खत्म होने वाली है। भारत बहुत जल्द अपना सेमीकंडक्टर चिपसेट बनाने जा रहा है।

इलेक्ट्रॉनिक उपकरण सस्ते हो जायेंगे
जी हां, आपने सही पढ़ा, भारत अब सेमीकंडक्टर के लिए दूसरे देशों पर अपनी निर्भरता खत्म करना चाहता है और देश ने इस दिशा में कदम भी बढ़ा दिए हैं। भारत जल्द ही चिपसेट का निर्माण शुरू कर देगा। एक बार भारत में सेमीकंडक्टर का निर्माण हो जाने के बाद, स्मार्टफोन, कंप्यूटर, लैपटॉप, चिकित्सा उपकरण, घरेलू उपकरण और गेमिंग हार्डवेयर की कीमतें काफी कम हो जाएंगी। पीएम नरेंद्र मोदी भारत के अपने सेमीकंडक्टर चिपसेट बनाने के सपने को जल्द से जल्द पूरा करना चाहते हैं।

चिप कब तैयार होगी?
केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव ने हाल ही में कहा था कि भारत की पहली सेमी-कंडक्टर चिप 2024 में तैयार हो जाएगी. इस चिपसेट की फैक्ट्री स्थापित करने वाला गुजरात देश का पहला राज्य होगा। एक बार उत्पादन शुरू होने के बाद इसे धीरे-धीरे अन्य राज्यों तक बढ़ाया जाएगा। सरकार ने देश में सेमीकंडक्टर बनाने के लिए दुनिया भर की कंपनियों को भारत में प्लांट लगाने के लिए आमंत्रित किया है। फॉक्सकॉन समेत कई बड़ी कंपनियां अपना सेटअप तैयार करने के लिए सरकार से बात कर रही हैं. आपको बता दें कि फॉक्सकॉन का सेमीकंडक्टर सेगमेंट में करीब 60 अरब डॉलर का कारोबार है। कंपनी ने कई देशों में अपने प्लांट स्थापित किए हैं।

केंद्र सरकार ने कंपनियों को ऑफर दिया
भारत में सेमीकंडक्टर चिपसेट उद्योग को बढ़ावा देने के लिए पीएम मोदी ने हाल ही में गुजरात के गांधी नगर में सेमीकॉन इंडिया 2023 का उद्घाटन किया। कंपनियों को भारत में तेजी से निवेश करने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए पीएम मोदी ने घोषणा की कि भारत में सेमीकंडक्टर चिपसेट उद्योग स्थापित करने वाली कंपनियों को सरकार द्वारा 50 प्रतिशत वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। पीएम मोदी ने यह भी कहा कि इस क्षेत्र में विकास के लिए एक इको-सिस्टम बनाया जा रहा है और भारत सेमीकंडक्टर चिप उद्योग में तेजी से आगे बढ़ेगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.