सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन, 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

चेहरे पर साबुन लगाने से त्वचा को होता है बड़ा नुकसान, इन गलतियों से बचें – त्वचा के लिए साबुन से बुढ़ापा और रूखापन आता है

0 3


अपने चेहरे को ग्लोइंग बनाए रखने के लिए हम कई तरह के कॉस्मेटिक्स का इस्तेमाल करते हैं। त्वचा को मुलायम बनाए रखने के लिए कई तरह के फेसवॉश का भी इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन कुछ लोग चेहरे के लिए साबुन का इस्तेमाल करते हैं, लेकिन यह हानिकारक हो सकता है।

छवि क्रेडिट स्रोत: फ्रीपिक

नई दिल्ली – स्किन पर ग्लो बनाए रखने के लिए हम कई तरह के ब्यूटी प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करते हैं (सौंदर्य उत्पाद) उपयोग करता है। त्वचा को कोमल बनाए रखने के लिए तरह-तरह के फेसवॉश (चेहरा धोना) का भी प्रयोग किया जाता है। लेकिन कुछ लोग साबुन का इस्तेमाल केवल अपने चेहरे के लिए करते हैं (चेहरे के लिए साबुन) उपयोग किया जाता है। लेकिन चेहरे पर साबुन लगाने के कई नुकसान होते हैं। साबुन में कास्टिक सोडा और कृत्रिम सुगंध होती है, जो त्वचा को नुकसान पहुंचा सकती है। हमारे चेहरे की त्वचा शरीर के अन्य अंगों की तुलना में अधिक संवेदनशील होती है। जो त्वचा को नुकसान पहुंचा सकता है। आइए जानें कि साबुन त्वचा के लिए क्या करता है…

त्वचा रूखी हो जाती है

अगर आप अपने चेहरे को साबुन से धोते हैं तो त्वचा रूखी होने लगती है। साबुन में सर्फेक्टेंट होता है, जो चेहरे की त्वचा को नुकसान पहुंचा सकता है। फेशियल सोप के ज्यादा इस्तेमाल से त्वचा की समस्याएं जैसे झुर्रियां, लालिमा और जलन हो सकती हैं। साबुन आपकी त्वचा की प्राकृतिक नमी को भी छीन सकता है।

बढ़ती उम्र के लक्षण दिखाई दे सकते हैं

यदि आप अपने चेहरे को साबुन से धोते हैं, तो आपके चेहरे पर समय से पहले बुढ़ापा आने के लक्षण दिखाई दे सकते हैं। बार-बार साबुन से चेहरा धोने से त्वचा रूखी और बेजान हो जाती है। इसके अलावा चेहरे पर झुर्रियां और फाइन लाइन्स भी देखी जा सकती हैं। साबुन आपकी त्वचा से उसका प्राकृतिक तेल छीन लेता है। रोजाना साबुन से चेहरा धोने से त्वचा टाइट और रूखी हो जाती है। अगर त्वचा को अपना प्राकृतिक तेल बरकरार रखना है तो चेहरे पर बहुत अधिक साबुन लगाना हानिकारक हो सकता है।

यह त्वचा के पीएच स्तर को प्रभावित करता है

इसे भी पढ़ें

हमारी त्वचा अम्लीय है और साबुन क्षारीय आधारित है। ऐसे में साबुन से चेहरा धोने से त्वचा का पीएच लेवल खराब हो सकता है। त्वचा को स्वस्थ रखने के लिए पीएच लेवल को बैलेंस करना भी जरूरी है। पीएच संतुलन के कारण त्वचा के जीवाणु संक्रमण को भी रोका जा सकता है।

Advertisement

Leave A Reply

Your email address will not be published.