सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन, 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

चेन्नइयन के सामने दीवार बन गए दिल्ली के फ्रांसिस्को

292

दिल्ली डायनामोस ने अपने स्टार गोलकीपर फ्रांसिस्को डोरोनसोरो के  शानदार प्रदर्शन से मंगलवार को इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के पांचवें सीजन में मौजूदा विजेता चेन्नइयन एफसी को अपने घर जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में खेले गए मैच में गोलरहित ड्रॉ पर रोक दिया.

फ्रांसिस्को ने दोनों हाफों में शानदार बचाव करते हुए चेन्नइयन के मजबूत से मजबूत प्रयास को नाकाम किया. चेन्नइयन के अटैक ने आखिरी 10 मिनट में लगातार हमले पर हमले किए लेकिन फ्रांसिस्को की दीवार उनके लिए अभेद साबित हुई.

इस ड्रॉ से हालांकि अंकतालिका में कोई अंतर नहीं आया है. दिल्ली चार मैचों में तीन ड्रॉ और एक हार के साथ आठवें स्थान पर ही बनी हुई है. वहीं चेन्नइयन का चार मैचों में यह पहला ड्रॉ है. वह अंकतालिका में सबसे नीचे 10वें स्थान पर है.

पहले 15 मिनट में दोनों टीमों ने नीरस फुटबॉल खेली, लेकिन धीरे-धीरे दोनों टीमों ने रफ्तार पकड़ी और मौके बनाने शुरू किए. पहले हाफ के आखिरी पलों में दोनों टीमों के गोलकीपरों को मेहनत करनी पड़ी. 37वें मिनट में दिल्ली को चेन्नइयन के डिफेंस को परेशान करने का फायदा मिलता दिख रहा था. चंगाते ने बाएं छोर से क्रॉस के जरिए गेंद को नेट में डालना चाहा जिसे चेन्नइयन के गोलकीपर करणजीत सिंह ने रोक लिया.

यहां से हाफ खत्म होने तक चेन्नइयन ने दिल्ली के गोलकीपर फ्रांसिस्को की अच्छी परीक्षा ली और लगातार हमले किए. फ्रांसिस्को हालांकि इस परीक्षा को पास करने में सफल रहे. 42वें मिनट में कार्लोस सालोम ने थोई सिंह को पास दिया. उनकी किक डिफेंडर से टकरा कर वापस उनके पास आ गई. थोई ने दोबारा प्रयास किया, लेकिन कीपर ने उसे नकार दिया. यहां दो मिनट के अंतराल में फ्रांसिस्को को कुछ और हमले झेलने पड़े जिनका उन्होंने सफलता से बचाव किया.

दूसरे हाफ में भी दोनों टीमें गोल करने की कोशिशों में लग रहीं। 54वें मिनट में ओरलैंडी ने बाईं तरफ से गेंद लेकर थोई सिंह को दी, लेकिन थोई इस बार भी गेंद को नेट में नहीं डाल पाए. 70वें मिनट में मेजबान टीम के गोलकीपर ने एक और शानदार बचाव करते हुए चेन्नइयन को बढ़त नहीं लेने दी. इसाक सेंटर लाइन से गेंद लेकर आए. आगे आकर उन्होंने गेंद सालोम को दी. लग रहा था कि गोल हो जाएगा, लेकिन फ्रांसिस्को अपनी जगह छोड़कर आए और गेंद को नेट में जाने से रोक दिया.

इस मैच में चेन्नइयन के लिए दिल्ली के गोलकीपर ही मुसीबत खड़ी कर रहे थे. नेल्सन ने आते ही उनकी परीक्षा ली और 78वें मिनट में बॉक्स के सामने से दिल्ली के दो डिफेंडरों को छकाते हुए गोलपोस्ट के कोने में निशाना दागा, लेकिन इस बार भी फ्रांसिस्को चेन्नइयन की राह में रोड़ा बन गए. चेन्नइयन जीत को बेसब्र हो रही थी और उसने गोल की ख्वाहिश में 88वें मिनट में सालोम के स्थान पर पिछले सीजन के स्टार रहे जेजे लालपेखुलुआ को उतारा. चेन्नइयन का हर दांव दिल्ली के गोलकीपर के सामने आकर रुक गया और उसे ड्रॉ से ही संतोष करना पड़ा.

The post चेन्नइयन के सामने दीवार बन गए दिल्ली के फ्रांसिस्को appeared first on GyanHiGyan.

Advertisement

Comments are closed.