चीन में भूकंप से तबाही, 126 इमारतें गिरीं, गैस पाइपलाइन फटी, भाग रहे लोग गिरे

0

Earthquake devastation in China, 126 buildings collapsed, gas pipeline burst, people running fell

चीन के शेडोंग प्रांत में भूकंप के तेज झटकों से भारी तबाही हुई है. झटका इतना तेज़ था कि इमारतें झरने की तरह हिलने लगीं। भाग रहे लोग जमीन पर गिर पड़े। कई लोग घायल भी हुए. रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 5.5 मापी गई है. भूकंप रविवार सुबह तब आया जब लोग सो रहे थे. गहरी नींद में था तभी 2:33 बजे धरती हिली. सुबह होने पर हादसे का पता चला। भूकंप का केंद्र डेझोउ में था. केंद्र की गहराई मात्र 10 किमी थी. इस बीच 126 इमारतें ढह गईं. 21 लोगों के घायल होने की खबर है.

भूकंप का केंद्र राजधानी बीजिंग से 300 किमी दूर था. चीन भूकंप नेटवर्क केंद्र ने कहा कि भूकंप की तीव्रता 5.5 थी, लेकिन अमेरिकी भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण ने रिक्टर पैमाने पर इसकी तीव्रता 5.4 बताई। चीन के सोशल मीडिया पर रात के अंधेरे की कुछ तस्वीरें वायरल हो रही हैं, जिसमें लोग भागते नजर आ रहे हैं. इमारतों और दीवारों के ढहने से सड़कों पर मलबा बिखर गया. अंधेरे में जान बचाकर भाग रहे लोग इन मलबे से टकराकर गिरकर घायल हो गए। बचाव कार्यों के लिए शहर में अग्निशमन कर्मियों को तैनात किया गया है।

भूकंप की तीव्रता को देखते हुए ट्रेनों को रोक दिया गया. रेलवे ट्रैक की जांच की जा रही है. सड़क मार्ग भी प्रभावित हैं. भूकंप का केंद्र धरती की सतह से 10 किलोमीटर नीचे था. अमेरिकी भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण का कहना है कि भूकंप का केंद्र सतह से ज्यादा गहरा नहीं था। ऐसे में और भी तबाही की आशंका है. खतरे को देखते हुए गैस सप्लाई भी रोक दी गई है. पाइपलाइन का निरीक्षण करने के लिए टीमें तैनात की गई हैं। कई इलाकों में पाइपलाइन क्षतिग्रस्त हो गयी है.

आपको बता दें कि बीती रात भारत की राजधानी दिल्ली और आसपास के इलाकों में भूकंप के झटके महसूस किए गए. दिल्ली-एनसीआर से लेकर चंडीगढ़-पंजाब तक लोगों ने भूकंप के झटके महसूस किए. भूकंप का केंद्र अफगानिस्तान के हिंदू कुश में था. तीव्रता 5.8 मापी गई है. जम्मू-कश्मीर में भी भूकंप के झटके महसूस किये गये. शनिवार सुबह भी जम्मू-कश्मीर में 5.2 तीव्रता का भूकंप आया.

Leave A Reply

Your email address will not be published.