सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन, 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

गाय और भैंस के दूध में कौन सा दूध, हमारे लिए ज्यादा अच्छा होता हैं?

333

जब बच्चा जन्म लेता है तो माँ का दूध पिता है और उसी से सम्पूर्ण पोषण प्राप्त करता है | जब हम थोड़े बड़े होते है तो गाय और भैंस का दूध पीते है | जब हम थोड़े और ज्यादा बड़े होते है तो हमें सुनने को मिलता है की कोई कहता है गाय का दूध ज्यादा अच्छा होता है तो कोई कहता है भैंस का दूध ज्यादा अच्छा होता है | तो आज हम आपको इसी  के बारे में जानकारी देने जा रहे है की आपकी सेहत के लिए कौन सा दूध ज्यादा अच्छा है और किस कंडीशन में हमारे लिए तो दोनों ही दूध उपलब्ध है,

गाय का भी और भैंस का भी , यह हमारी जरुरत है की हमें कौनसा पीना है | दोनों ही दूध में अनेक प्रकार के पोषक तत्व पाए जाते है जो हमारी बॉडी के लिए बेहद जरुरी है | दोनों ही दूध पीने से हमें शक्ति और पोषण मिलता है| दोनों ही दूध के स्वाद मीठा होता है |

अब आगे हम आपको गाय और भैंस के दूध में वो अंतर बता रहे है जिनको पढ़कर आप आसानी से यह निश्चित कर पाएंगे की आपको गाय का दूध पीना है भैंस का दूध ?

भैंस और गाय के दूध में तुलना

प्रोटीन

भैंस के दूध में प्रोटीन गाय के दूध की तुलना में बहुत ज्यादा पाया जाता है इसलिए जो लोग अपना वजन बढ़ाना चाहते है और एक्सरसाइज करते है उनके लिए भैंस का दूध सही होता है | छोटे बच्चे और बुजुर्ग व्यक्ति गाय के दूध को आसानी से नहीं पचा पाते है इसलिए उन्हें गाय का दूध ही पीना चाहिए |

फैट

भैंस के दूध में गाय के दूध की तुलना में 99% फैट ज्यादा पाया जाता है इसलिए भैंस का दूध बहुत भारी होता है जबकि गाय का दूध हल्का होता है | भैंस के दूध को पचाना बहुत ही मुश्किल होता है जबकि गाय का दूध आसानी से पच जाता है |

कैलोरी

फैट में सबसे ज्यादा कैलोरी पाई जाती है इसलिए जाहिर है की भैंस के दूध में ज्यादा कैलोरी पाई जाती है | 100 मिली गाय के दूध में 70 कैलोरी होती है जबकि 100 मिली भैंस के दूध में 100 कैलोरी होती है | जो लोग अपना वजन कम करना चाहते है उन्हें भैंस का दूध बिलकुल भी नहीं पीना चाहिए |

कोलेस्ट्रोल

गाय के दूध में कोलेस्ट्रॉल ज्यादा होता है जबकि भैंस के दूध में कोलेस्ट्रॉल नहीं होता है | इसलिए दिल की बीमारी, और ब्लड प्रेशर के मरीजो को सिर्फ भैंस का दूध ही पीना चाहिए |

मिनरल्स

गाय के दूध की तुलना में भैंस के दूध में ज्यादा मिनरल्स पाए जाते है जैसे कैल्शियम, आयरन और फॉस्फोरस भैंस के दूध में भर भरके होते है इसलिए जिन लोगो को इनकी कमी है उन्हें भैंस का दूध ही पीना चाहिए भैंस का दूध हमारी हड्डियों, दिल और वजन बढ़ाने के लिए सही होता है जबकि गाय का दूध हड्डियों, दांतों और वजन घटाने के लिए अधिक फायदेमंद है | भैंस का दूध पनीर और घी बनाने के लिए सही माना जाता है जबकि गाय का दूध दही और मिठाइयाँ बनाने के लिए सही माना जाता है |

यह तो हुई गुणवत्ता की बात और आपको बता दें कि हिंदुओं के धार्मिक कारण में भैंस की जगह ज्यादातर गाय के दूध का ही इस्तेमाल होता है। क्योंकि गाय में 33 प्रकार के देवता निवास करते हैं।इसलिए गाय का दूध ही धार्मिक कार्यों में इस्तेमाल होता है। वेदों में कामधेनु नाम की गाय का वर्णन भी है, जिसकी सेवा करने से सेवा करने वाले को फल मिल जाता था। गाय के घी में उच्च क्वालिटी का बल होता है, जिसे खाने से व्यक्ति ताकतवर हो जाता है।

Advertisement

Comments are closed.