सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन, 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

गंभीर ने छोड़ी दिल्ली रणजी टीम की कप्तानी, नीतीश राणा संभालेंगे कमान

187
Related Posts

05, 06 और 07 मार्च को चमकने वाली हैं इन राशियों की किस्मत

05, 06 और 07 मार्च को मिलने वाली है इन राशियों को खुशखबरी

  • गंभीर के नेतृत्व में दिल्ली विजय हजारे ट्रॉफी के फाइनल तक पहुंचा था
  • गंभीर ने आईपीएल 11 में दिल्ली डेयरडेविल्स की भी कप्तानी छोड़ी थी

Dainik Bhaskar

Nov 05, 2018, 02:56 PM IST

खेल डेस्क. दिल्ली के गौतम गंभीर ने रणजी ट्रॉफी के बीच में ही टीम की कप्तानी छोड़ दी है। उन्होंने टीम मैनेजमेंट को इस पद के लिए किसी युवा खिलाड़ी का चयन करने को कहा है। इसके बाद दिल्ली ने नीतीश राणा को टीम की कमान सौंप दी। गंभीर ने आईपीएल 11 में दिल्ली डेयरडेविल्स की कप्तानी भी टूर्नामेंट के बीच में ही छोड़ी थी। वे सीजन के शुरुआती छह मैचों में ही अंतिम एकादश का हिस्सा रहे थे।

विजय हजारे ट्रॉफी के इस सीजन में गंभीर ने बनाए थे 518 रन

  1. दिल्ली और जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) के एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने बताया, “गंभीर ने राज्य टीम के मुख्य चयनकर्ता अमित भंडारी को कहा है कि वे कप्तानी से बाहर निकलना चाहते हैं। उन्होंने सुझाव दिया है कि किसी युवा खिलाड़ी को इसकी जिम्मेदारी दी जाए।”
     

  2. दिल्ली को 12 नवंबर से घरेलू मैदान फिरोज शाह कोटला स्टेडियम में हिमाचल प्रदेश के खिलाफ इस सीजन में अपना पहला मैच खेलेगा। सोमवार को टीम का चयन होना है। गंभीर की कप्तानी में दिल्ली की टीम विजय हजारे ट्रॉफी के फाइनल में पहुंची थी।

  3. गंभीर ने विजय हजारे ट्रॉफी के 10 मैच में 518 रन बनाए थे। इस दौरान उनका औसत 51.80 और स्ट्राइक रेट 110.44 का रहा। उन्होंने दो शतक और एक अर्धशतक लगाया था। वे सर्वाधिक रन बनाने के मामले में दूसरे नंबर पर थे। पहले पायदान पर तमिलनाडु के अभिनव मुकुंद (560 रन) रहे।

  4. गंभीर 37 साल के हो चुके हैं। वे रणजी में चार दिवसीय मैच खेलेंगे या नहीं, इस पर भी संशय बरकरार है। कप्तानी को छोड़ने के बाद ऐसा माना जा रहा है कि गंभीर अब ज्यादा दिन क्रिकेट नहीं खेलेंगे, लेकिन शिखर धवन, ऋषभ पंत के नहीं होने से टीम को उनके अनुभव की जरुरत है।

Advertisement

Comments are closed.