खुद पर लगे स्पॉट-फिक्सिंग के आरोप को पाकिस्तानी स्पिनर दानिश कनेरिया ने स्वीकारा

पाक क्रिकेट टीम के पूर्व स्पिन गेंदबाज दानिश कनेरिया ने खुद ही अपने ऊपर लगे स्पॉट-फिक्सिंग के आरोपों को स्वीकार कर लिया है। एक रिपोर्ट के मुताबिक उन पर लगे इस आरोप में दानिश के एसेक्स टीम के पूर्व खिलाड़ी मेर्विन वेस्टफील्ड भी इसमें शामिल थे। इस बात को खुद पूर्व क्रिकेट खिलाड़ी दानिश कनेरिया ने स्वीकारा है।

आपको बता दें कि 37 साल के दानिश कनेरिया ने हाल ही में दिए एक बयान में कहा है कि ‘मेरा नाम दानिश कनेरिया है और मैं स्वीकार करता हूं कि मैं इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड द्वारा 2012 में मुझ पर लगाए गए दो आरोपों को स्वीकार करता हूं।’ उन्होंने आगे कहा है कि ‘मैंने खुद को बेहद मजबूत बनाते हुए यह फैसला लिया है, क्योंकि आप झूठ के साथ जीवन नहीं जी सकते हैं।’

जानकारी दे दें कि दानिश को 2010 में स्पॉट-फिक्सिंग के मामले में वेस्टफील्ड के साथ में गिरफ्तार किया गया था। लेकिन बाद में कम सबूत होने के कारण उन दोनों को ही छोड़ दिया गया था। दानिश इन आरोपों से खुद को इतने सालों से बचाते हुए आए हैं। लेकिन आज उन्होंने इस सच को खुद ही स्वीकार कर लिया है। इन आरोपों के बाद इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड द्वारा उन्हें हमेशा के लिए प्रतिबंधित कर दिया गया था।

बता दें लेग स्पिनर दानिश कनेरिया ने कहा है कि ‘मैं एसेक्स के अपने साथी खिलाड़ी मर्विन वेस्टफील्ड से, एसेक्स क्रिकेट क्लब और एसेक्स के प्रशंसकों से माफी मांगना चाहता हूं। मैं पाकिस्तान से माफी मांगता हूं।’ साल 2009 में डरहम में 40 ओवरों के एक काउंटी मैच के वक्त वेस्टफील्ड ने अपने पहले ही ओवर में 12 रन देने की एवज में 7862 डॉलर कथित सटोरिए अनु भट्ट से लिए थे। बता दें ये सौदा कनेरिया की मध्यस्थता में हुआ था। जिसने अनु भट्ट से वेस्टफील्ड को मिलवाया था।

The post खुद पर लगे स्पॉट-फिक्सिंग के आरोप को पाकिस्तानी स्पिनर दानिश कनेरिया ने स्वीकारा appeared first on GyanHiGyan.

Comments are closed.