सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन, 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

धनवान बनने के पांच गुप्त रहस्य, देखते ही देखते हो जाएंगे अमीर

0 3

आज हर कोई करोड़पति बनना चाहता है। ऐसे कई उपाय हैं जो पैसे को आपकी ओर आकर्षित करते हैं। लेकिन इस संबंध में जानकारी नहीं होने से हम जल्द अमीर होने से वंचित रह जाते हैं।

सनातन धर्म में माता लक्ष्मी और गणेशजी की पूजा-अर्चना करके उनसे जीवन में सुख-शांति, धन-दौलत और खुशहाली का वरदान मांगा जाता है। लेकिन क्या आप जानते है कि लक्ष्मी-गणेश पूजन की एक खास विधि है, जो आपको जल्द लाभ प्रदान करती है…

जानिये ये खास विधि…
लक्ष्मी पूजन : मान्यता के अनुसार मां लक्ष्मी, सदा हम पर प्रसन्नता और संपदा की बौछार करती हैं। मां लक्ष्मी पूजन की शुरूआत बैकुंठपति श्री नारायण की पूजा द्वारा की जाती है।
कहा जाता है कि देवताओं और राक्षसों की लड़ाई में जब इंद्रदेव पराजय हुए तो राक्षसों ने उनकी सारी धन दौलत को छीन लिया। जिसके कारण देवों के राजा इंद्र को पहाड़ों की कंदराओं में शरण लेनी पड़ी।

अंत में इंद्र देव ने ब्रह्माजी से गुहार लगाई और उनकी सलाह अनुसार मां लक्ष्मी की पूजा की। इस पूजा-अर्चना के कारण अंततः इंद्रदेव को फिर से उनकी खोई हुई धन संपदा वापिस मिली।

भगवती महालक्ष्मी का मंत्र –
ॐ श्रीं हीं श्रीं कमले कमलालये प्रसीद।
प्रसीद श्रीं हीं श्रीं ॐ महालाक्ष्मै नमः।।

माना जाता है कि इस मंत्र का जाप करने से उपासकों की इच्छाएं पूर्ण होती हैं। इसके अलावा धन-संपदा मिलने के साथ ही उपासकों का भाग्योदय भी होता है।

लक्ष्मी गणेश यंत्र…
जहां देवी लक्ष्मी, समृद्धि, धन, समृद्धि और खुशी का प्रतिनिधित्व करती है, वहीं भगवान गणेश बुद्धि, ज्ञान और ज्ञान के प्रतीक माने जाते हैं। कहा जाता है कि इस यंत्र में दोनों देवी-देवताओं की सामूहिक शक्तियां समाहित है। लक्ष्मी गणेश यंत्र की पूजा करने से जीवन में संपत्ति, सफलता और शोहरत प्राप्त करने का आपका स्वप्न पूर्ण होता है।

जानकारों का कहना है कि यदि आप किसी बुरे दौर से गुजर रहे हैं या वित्तीय स्थिति आपके लिए चिंता का विषय बन रही है तो यह यंत्र आपके लिए बेहद फायदेमंद साबित होगा। इसके अलावा अपने भाग्य को आकर्षित करने की चाह रखने वाले लोगों के लिए भी यह एक प्रभावशाली यंत्र है।

गणेश पूजन : श्रीगणेश को विघ्नहर्ता माना जाता हैं। इसीलिए सभी प्रकार के शुभ कामों जैसे विवाह और गृह प्रवेश आदि के पहले उनकी पूजा जरूर की जाती है।

गणेशजी का मंत्र-
श्री गणेशाय नमः॥

इस मंत्र का प्रतिदिन शांत मन से 108 बार जाप करने से भगवान गणेशजी की कृपा प्राप्त होती है। हर कार्य स्वतः अनुकूल सिद्ध होने लगता है।

गणेश जी की पूजा के लिए आवश्यक पूजन सामग्री…
पूजा से जुड़ी अधिकांश सामग्रियां घर में ही उपलब्ध होती हैं। केवल कुछ ही चीजों को बाहर से मंगाने की जरुरत होती है। यहां हम आपको पूजा में प्रयुक्त होने वाली उन चीजों का महत्व बताते हैं।

श्री गणेश के किस पूजन से होता है कौन सा लाभ…
1. गणेशजी को जल का अभिषेक करने से जीवन में दुःख का नाश होता है। और सुख का आगमन होता है तथा जीवन में विद्या, धन, संतान और मोक्ष की प्राप्ति होती है।

2. गणेशजी को सफेद पुष्प या जासुद अर्पण करने से कीर्ति मिलती है।

3. गणेशजी को दुर्वा अर्पण करने से सौभाग्य की प्राप्ति होती है, आर्थिक उन्नति होती है और संतान का सुख मिलता है।

4. गणेशजी को सिंदुर अर्पण करने से सौभाग्य की प्राप्ति होती है।

5. गणेशजी को धूप अर्पण करने से कीर्ति मिलती है।

6. गणेशजी को लड्डू अर्पण करने से मनोवांछित फल की प्राप्ति होती है।

Advertisement

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.