सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन, 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

अजवाइन के घरेलू नुस्खे जो शरीर के लिए हैं, बेहद उपयोगी

14

1.भूख कम लगना जैसी बीमारीमे अजवाइन का सेवन करने से पाचन शक्ति बढ़ती है जिससे भूख लगने लगती है।

2.गर्भवती महिलाको प्रसवके बाद शारिरीक विकास के लिए अजवाइनका इस्तेमाल किया जाता है। इससे महिला को शारिरीक विकास होता है और कमजोरी दुर होती है।

3.सर्दीओके मौसममे अजवाइनका सेवन करने से कुपोषण व्यक्ति मे शरीर की कमजोरी दुर होती है। ओर शारिरीक बल बढता हे।

4.मसा भगंदरकी बिमारीमे भी अजवाइन का इस्तेमाल किया जाता है। अजवाइनको सेकके पीसकर छाशके साथ लेने से राहत होती है।

5.अजवाइनका सर्दीओमे सेवन करनेसे सर्दी-झुकाम खांसीमे राहत होती है।

6.अजवाइनका सेवन करने से रोगप्रतिकारक शक्ति बढ़ती हे।

आयुर्वेदमे अजवाइनका महत्व

आयुर्वेद मे अजवाइन आहारको पाचन करने वाला, गरम, वायुनाशक, फेफड़े की संकोच विकास नियमन करने वाला, उत्तम, उत्तेजक, बल देने वाला, शरीर मे होनेवाले सडे को दूर करने वाला, कही कुछ लग जाये तो घा मिटाने वाला, कफ, वायुके रोग मिटाने वाला, गर्भाशयको उत्तेजित करने वाला, क्रुमिनाशक माना जाता हे।

हमारे देशमें कइ राज्यमे अजवाइनको किसान अपने खेतोमे उगाते हे।ओर अजवाइन का इस्तेमाल रसोईमे मसालेके तौर पर किया जाता है।

गावोमे अजवाइन इस्तेमाल करनेका तरिका

अजवाइनको गावोमे घी और गुड के साथ लिया जाता है। पहले अजवाइन को पीसकर छोटा किया जाता हे। बाद में स्वाद अनुसार गुड लिया जाता हे। फिर एक कढाईमे घी लेकर गुड डालकर गरम करके फिर अजवाइन इसमें डाला जाता है। ओर फिर इसका सेवन किया जाता है।

Advertisement

Comments are closed.