सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन, 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

अजवाइन का पानी ऐसे बनाकर पीयें अजवाइन का पानी, देखें फर्क

161

आपने अजवाइन के बारे में तो जरूर सुना होगा। अजवाइन विशेष रूप से भारत में एक प्रसिद्ध मसाला है जिसमें मजबूत सुगंध, कांटेदार पत्तियां और तेज, मसालेदार स्वाद होता है। अजवाइन के बीजों में कई आवश्यक खनिज और विटामिन होते हैं। इसमें कुछ प्रोटीन, वसा और कार्बोहाइड्रेट भी होते है।

अजवायन का पानी बनाने का तरीका

अजवायन का पानी बनाने के लिए रात को एक गिलास पानी में 10 ग्राम अजवायन डालकर ग्लास को ढंक दें और सुबह उठकर पी ले। अगर आप वजन कम करना चाहते हो अजवायन के पानी को गर्म करके पीऐ।

अजवाइन के पानी के फायदे

1. पेट की बीमारियों से छुटकारा

  1. यह आपके मेटाबॉलिज्म को बढ़ाने में मदद करेगा जिससे यह धीरे धीरे आपके शरीर से फैट को कम करने में

मदद करताहै।

  1. अक्सर गर्भावस्था में कब्ज या प्रेगनेंसी में गैस बनने जैसी पेट से सम्बंधित समस्याएं हो सकती है। अजवाइन का

पानी पीने से इन लक्षणों को दूर करने मदद मिलती है।

  1. अजवाइन के पानी पीने से किडनी स्टोन का इलाज करने और उन्हें बनने से रोकने में मदद मिल सकती है।

अजवाइन का पानी किडनी रोग के कारण होने वाले दर्द के इलाज में भी उपयोगी है।

  1. अस्थमा के लक्षणों से छुटकारा पाने के लिए आप गर्म या गुनगुना अजवाइन का पानी पी सकते हैं। इसको और

असरदार बनाने के लिए, आप इसे गुड़ के साथ मिलाकर भी सेवन कर सकते हैं।

  1. अजवाइन का पेस्ट फोड़े, मुंहासे या एक्जिमा के कारण त्वचा पर खुजली और सूजन को कम करने के लिए

विशेष रूप से उपयोगी होता है।

  1. अजवाइन का पानी एक प्राकृतिक सर्दी खांसी की दवा है जो आपको सर्दी के लक्षणों से राहत दिलाने में मदद

कर सकता है

अजवयन पनी के नुकसान

  1. अजवाइन पानी विभिन्न पाचन समस्याओं को ठीक करने के लिए एक घरेलू उपाय है, लेकिन इसका अधिक उपयोग आपके शरीर पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकता है। यह पाचन तंत्र में गैस बनने का कारण बन सकता है जिसकी वजह से एसिडिटी हो सकती है।
  2. जो महिलाएं गर्भावस्था के दौरान अजवाइन का सेवन करती हैं उन्हें सावधान रहना चाहिए क्योंकि बहुत अधिक अजवाइन के पानी का सेवन शरीर के तापमान को बढ़ा सकता है और गर्भावस्था में विभिन्न समस्याएं पैदा कर सकता है।
  3. अजवाइन का अधिक मात्रा में सेवन करना हानिकारक हो सकता है। यह ह्रदय दर में वृद्धि कर सकती है जिससे पैल्पिटेशन होता है। इससे ब्लड प्रेशर भी बढ़ता है। इसलिए सीमित मात्रा में ही इसका सेवन करना चाहिए।
  4. जो लोग लिवर की बीमारियों से पीड़ित होते हैं उन्हें अजवाइन के सेवन से बचना चाहिए अन्यथा यह समस्याओं को और बढ़ा सकता है।

Advertisement

Comments are closed.