सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन, 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

अगर भी आप कैंसर के खतरे को कम करना चाहते हैं तो सुबह 8 से 10 बजे तक व्यायाम करें !

9
यदि आप अपने कैंसर के खतरे को कम करना चाहते हैं, तो स्पेन में शोध के अनुसार, सुबह 8 से 10 बजे तक व्यायाम करें।
Related Posts

यदि आपके शरीर में दिखे यह लक्षण, तो समझ जाइए आप इस बीमारी से ग्रस्त…

खाना खाने के बाद ये गलतियां करने वाले लोग हो जाएं सावधान, नहीं तो होगा…

एक शोध के अनुसार दिन के दौरान व्यायाम करने से सर्कैडियन लय में सुधार होता है। सुबह व्यायाम करने से एस्ट्रोजन हार्मोन के स्तर को कम किया जा सकता है।

व्यायाम प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ाता है और कैंसर के खतरे को कम करता है। स्पेन में हुए एक शोध के अनुसार, व्यायाम का समय महत्वपूर्ण है अगर व्यायाम कैंसर के खतरे को कम करना है। 8 से 10 बजे के बीच व्यायाम करने से प्रोस्टेट, कोलन और स्तन कैंसर का खतरा कम हो सकता है।

 2795 लोगों पर शोध किया

इंटरनेशनल जर्नल ऑफ कैंसर में प्रकाशित शोध के अनुसार, 2795 लोगों पर शोध किया गया। शोध से पता चला है कि एस्ट्रोजन हार्मोन का स्तर सुबह के समय उच्च रहता है, जो कैंसर का कारण बनता है। सुबह व्यायाम करने से यह हार्मोन का स्तर कम हो सकता है।

 नींद और कैंसर का रिश्ता

नींद और कैंसर आपस में जुड़े हुए हैं। रात की पाली में काम करने वाले लोगों की सर्कैडियन लय बिगड़ जाती है। ऐसे लोगों में कैंसर का खतरा बढ़ जाता है। एक व्यक्ति की जैविक घड़ी जिसमें नींद और जागने का चक्र समाप्त होता है उसे सर्कैडियन लय कहा जाता है।

  सुबह के अभ्यास से सर्कैडियन लय में सुधार होता है।

वर्तमान राय इस शरीर विज्ञान में प्रकाशित शोध के अनुसार, सुबह व्यायाम करने से सर्कैडियन लय में सुधार होता है। वैज्ञानिकों का कहना है कि जो लोग 7 से 10 बजे तक व्यायाम करते हैं उनके शरीर की धीमी गति की घड़ियां होती हैं और शरीर पर प्रभाव पड़ता है।

 5 वर्षों में कैंसर के मामलों में 12% की वृद्धि होगी

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च की एक रिपोर्ट के अनुसार, भारत में अगले 5 वर्षों में कैंसर के मामलों में 12% की वृद्धि होगी। वर्तमान में देश में कैंसर के 13.9 लाख मामले हैं। 2025 तक यह बढ़कर 15.7 लाख हो सकता है।

रिपोर्ट के अनुसार 2020 तक पुरुषों में 6.8 लाख और 2025 तक 7.6 लाख मामलों का अनुमान है। तो यह अनुमान है कि 2020 में महिलाओं के 7.1 लाख मामले और 2025 तक 8 लाख मामले होंगे।

 ऐसे में कैंसर से बचना कैसे है

डाइट में हरी पत्तेदार सब्जियां, छोले और फल शामिल करें। सब्जियों और फलों में फाइबर बीमारियों से लड़ने में सहायक है।

  •  बहुत अधिक चीनी का उपयोग न करें।
  •  तलने के लिए नारियल या जैतून के तेल का उपयोग करें।
  •  यदि आप कैंसर के लक्षणों को नोटिस करते हैं, तो इलेक्ट्रॉनिक वस्तुओं का उपयोग कम करें।
  •  लंबे समय तक जन्म नियंत्रण की गोलियों का उपयोग न करें। यह महिलाओं को स्तन कैंसर के खतरे में डालता है।
  •  कैंसर के इन लक्षणों की चर्चा कम ही होती है
  •  मूत्र में रक्तस्राव
  •  किसी चीज को निगलने में परेशानी होना
  •  रजोनिवृत्ति के बाद भी रक्तस्राव
  •  रक्ताल्पता
  •  मल में रक्तस्राव
  •  खांसी के दौरान रक्तस्राव
  •  स्तन में गांठ

Advertisement

Comments are closed.