सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन, 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

अगर आप भी पीते हैं ज्यादा कॉफी तो हो जाएं सावधान, हो सकती हैं ये समस्याएं

2
Be careful if you drink too much coffee, these problems can happen

कई लोगों के दिन की शुरुआत कॉफी से होती है। कुछ लोगों को कॉफी की इतनी लत होती है कि आप उनसे जितनी बार भी कॉफी मांगेंगे, वे मना नहीं करेंगे। लेकिन क्या आप जानते हैं कि दो बार से ज्यादा कॉफी पीना सेहत को नुकसान पहुंचा सकता है। अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन के जनरल की रिपोर्ट के मुताबिक, जिन लोगों को हाई ब्लड प्रेशर की समस्या है, उनके लिए कॉफी का ज्यादा सेवन जानलेवा साबित हो सकता है। उच्च रक्तचाप (160/100 मिमी एचजी या अधिक) वाले लोगों के लिए हृदय रोग से मरने का जोखिम लगभग दोगुना हो जाता है।

इसके अलावा शोध में यह बात भी सामने आई है कि रोजाना एक कप कॉफी और एक कप ग्रीन टी पीने से दिल से जुड़ी बीमारियों से मौत का खतरा कम हो जाता है। हालाँकि, दोनों पेय में कैफीन होता है। फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (एफडीए) के अनुसार, 8 औंस कप हरी या काली चाय में 30-50 मिलीग्राम कैफीन होता है, जबकि 8 औंस कप कॉफी में लगभग 80 से 100 मिलीग्राम कैफीन होता है।

ज्यादा कॉफी पीने से ब्लड प्रेशर बढ़ सकता है

शोध में यह भी बताया गया है कि ज्यादा कॉफी पीने से ब्लड प्रेशर बढ़ सकता है। इसके अलावा तनाव, दिल की धड़कन तेज होना और नींद न आने जैसी समस्याएं हो सकती हैं।

मृत्यु का खतरा बढ़ जाता है

शोध के मुताबिक जिन लोगों का ब्लड प्रेशर 160/100 mm Hg से ज्यादा है, अगर वे दिन में दो या इससे ज्यादा कप कॉफी पीते हैं तो ऐसे लोगों में दिल की बीमारी से मौत का खतरा दोगुना हो जाता है। वहीं दिन में एक कप कॉफी पीने से हाई ब्लड प्रेशर से मौत का खतरा नहीं बढ़ जाता है। इसके अलावा ग्रीन टी के सेवन से हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों में हृदय रोग से मौत का खतरा भी कम नहीं होता है। शोध के नतीजों के मुताबिक हाई ब्लड प्रेशर वाले लोगों को ज्यादा कॉफी पीने से बचना चाहिए। क्‍योंकि कॉफी में पाए जाने वाले कैफीन के हानिकारक प्रभाव से मौत का खतरा बढ़ सकता है।

(नोट – इस लेख में दिखाई गई जानकारी सामान्य विवरण पर आधारित है। कोई भी निर्णय लेने से पहले डॉक्टर या विशेषज्ञ से सलाह लें। Sabkuchgyan इसका समर्थन नहीं करता है और इसके लिए जिम्मेदार नहीं होगा। हमारा मुख्य उद्देश्य केवल आपको सामान्य जानकारी प्रदान करना है)

Advertisement

Comments are closed.