90% लोगो को नहीं पता होगा भारत के तिरंगे के बारे में यह बातें

0 305

जब तिरंगे का किसी मृत शरीर पर डाला जाता है तो उस तिरंगे को दोवारा नहीं फहराया जाता है उसके बाद उसे पूर्ण सम्‍मान के साथ या ताे जलाया जाता है या फिर पथ्‍‍थर बॉध कर जल में समाधि दी जाती है

90% of people will not know this things about India's tricolor

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें

भारत का राष्‍ट्रीय ध्‍वज सबसे पहले सबसे ऊॅचाई पर 29 मई 1953 को माउंट एवरेस्ट की चोटी पर शेरपा तेनजिंग और एडमंड माउंट हिलेरी द्वारा फहराया गया था

स्क्वाड्रन लीडर संजय थापर ने पहली बार 21 अप्रैल 1996 के दिन तिरंगे की शान बढाते हुए एम. आई.-8 हेलिकॉप्टर से 10000 फीट की ऊंचाई से कूदकर देश के झंडे को उत्तरी ध्रुव में फहराया था

भारत का राष्‍ट्रीय ध्‍वज अंतरिक्ष में 1984 में विंग कमांडर राकेश शर्मा द्वारा फहराया गया था

क्या आपको भारत के तिरंगे की यह बातें पता है?

सबसे बडा मानव तिरंगा वर्ष 2014 में 5000 स्वयंसेवकों द्वारा चेन्‍नई में बनाया गया था

भारत का संसद एक ऐसा भवन है जहॉ एक साथ तीन तिरंगे फहराये जातेे हैंं90% of people will not know this things about India's tricolor

किसी भी दूसरे झंडे को राष्ट्रीय झंडे से ऊंचा या ऊपर नहीं लगा सकते और न ही बराबर रख सकते हैंं

आजाद देश में लाल किले से तिरंगे झंडे को सर्वप्रथम नेहरू ने 16 अगस्त 1947 में फहराया था

राष्‍ट्रपति भवन के संग्रहालय में एक छोटा सा तिंरगा रखा हैै जिसे सोने के स्‍तंभ पर हीरे जवाहरात से बनाया गया है

Advertisement

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.