क्रिकेट के 5 चमत्कारिक रिकॉर्ड जिनका टूटना असंभव है

2

क्रिकेट के खेल में माना जाता है की रिकॉर्ड बनते ही है टूटने के लिए, लेकिन इसी खेल में कुछ खिलाडी अपनी काबिलियत के बूते कुछ ऐसा करिश्मा कर देते है जिसे तोड़ना तो दूर की बात है उसकी बराबरी करना ही असंभव लगता है। तो आज हम आपको क्रिकेट के 5 ऐसे ही रिकॉर्ड्स के बारे में बताएंगे

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

5 amazing cricket records that are impossible to break

5. ब्रेडमेन का टेस्ट एवरेज

ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज बल्लेबाज सर डॉन ब्रैडमैन को आज भी टेस्ट क्रिकेट का सबसे महान बल्लेबाज माना जाता है, जिन्होंने साल 1928 से शुरू हुए अपने 20 साल के अंतराष्ट्रीय क्रिकेट करियर में 52 टेस्ट मैच खेलकर 19 शतकों के साथ 6996 रन बनाए। इस दौरान ब्रेडमैन का टेस्ट एवरेज 99.94 का रहा।

टेस्ट क्रिकेट में ब्रेडमैन के एवरेज के पास कोई भी दूसरा बल्लेबाज दूर-दूर तक नहीं है।

4. पी.वी सीमंस की गेंदबाजी

पी.वी सीमंस वेस्टइंडीज के ऑलराउंडर थे जिन्होंने साल 1992 में पाकिस्तान के खिलाफ खेले गए एक वनडे मैच में अपनी गेंदबाजी से कुछ ऐसा कर दिखाया जिससे देखकर पूरी दुनिया हैरान रह गई। दरअसल इस मैच में पी.वी सीमंस ने अपने द्वारा कराए 10 ओवर में 8 मेडन के साथ केवल 3 रन दिए। इस दौरान उनका इकोनॉमी रेट 0.30 का रहा जो कि वनडे क्रिकेट के अबतक के इतिहास में सबसे किफायती है और भविष्य में शायद ही यह रिकॉर्ड कोई दूसरा गेंदबाज दोहरा पाए।

5 amazing cricket records that are impossible to break

3. डबल सेंचुरी की हैट्रिक

जब बात वनडे मैचों में लम्बी पारियों की आती है तो भारतीय टीम के उपकप्तान रोहित शर्मा इस सुची में सबसे ऊपर नजर आते है और यही कारण की वह अबतक अपने अंतराष्ट्रीय वनडे करियर में 3 बार डबल सेंचुरी जड चुके है। रोहित के अलावा केवल 5 बल्लेबाज ही ऐसे है जो 1-1 बार यह कारनामा कर पाए। चार डबल सेंचुरी लगाकर यदि कोई बल्लेबाज रोहित शर्मा का यह रिकॉर्ड तोडने में सक्षम है तो वह खुद रोहित ही होंगे।

2. जिम लेकर की 19 विकेट5 amazing cricket records that are impossible to break

26 जुलाई 1956 में इंग्लैंड के मैनचेस्टर में इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच हुए टेस्ट मैच में एक ऐसा रिकॉर्ड बना जिसे तोड़ना लगभग नामुमकिन है। जी हां इस मैच में इंग्लैंड के दिग्गज गेंदबाज जिम लेकर ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट की दोनों इनिंग्स में 19 विकेट हासिल करके इतिहास रच दिया। यदि कोई गेंदबाज इस रिकॉर्ड को तोड़ना चाहें तो उसे एक टेस्ट मैच की सभी 20 विकेट हासिल करनी पड़ेगी जो कि एक असंभव सा काम है।

1. जैक हॉब्स का फर्स्ट क्लास करियर

जैक हॉब्स एक इंग्लिश बैट्समेन थे, जिन्होंने अपने फर्स्ट क्लास क्रिकेट करियर में अपनी घरेलू टीम सूरे ( Surrey ) की तरफ से खेलते हुए ऐसा प्रदर्शन किया जिसे दोहरा पाना लगभग असंभव सा लगता है। जैक हॉब्स ने साल 1905 से 1935 तक अपनी टीम की तरफ़ से 835 मैच खेलते हुए 199 सेंचुरी के कुल 61,760 रन बनाये।

Advertisement

Comments are closed.