नए चेहरे आने की वजह से कांग्रेस में आयी दरार, कई ने दिए इस्तीफे

0 130

चंडीगढ़ः पंजाब कैबिनेट में हुए विस्तार में 9 नए चेहरों को जगह मिल गई है। लेकिन इससे कई पुराने चेहरे मायूस हो गए हैं। PUNJAB GOVERNMENT  के कई मंत्रियों ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। सबसे पहले टांडा उड़मुड़ के विधायक संगत सिंह गिलजियां ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया। उसके बाद से कांग्रेसियों की नाराजगी लगातार जारी है। आज बल्लुआणा से विधायक नत्थुराम ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया। इसके साथ ही अमरगढ़ से विधायक सुरजीत सिंंह धीमान ने भी पार्टी के पीपीसीसी और डेलीगेट मीत प्रधान के पद से इस्तीफा दे दिया।

बताया जा रहा है कि दोनों नेता पंजाब कैबिनेट में जगह न मिलने को लेकर नाराज चल रहे हैं। आपको बता दें कि पंजाब कैबिनेट में हुए विस्तार में 4 नए हिंदू चेहरे लाए गए हैं,जिसे राजनीति विशेषज्ञ हिंदू वोटकार्ड के रुप में देख रहे हैं। वहीं कैप्टन ने जिन नामों पर मुहर लगाई है वो सभी नए चेहरे हैं लेकिन कैप्टन ने कहा कि सब नेता जमीन से जुड़े हुए हैं।

वहीं पंजाब कैबिनेट में जगह न मिलने से नाराज संगत सिंह गिलजिया ने सुनील जाखड़ को खत लिखकर नाराजगी जाहिर की है। उन्होनें कहा कि राज्य में पिछड़ी जाति की कुल 27 फीसदी जनसख्या है,लेकिन उन्हीं से संबंधित विधायकों को कैबिनेट में शामिल नहीं किया गया है।

कैबिनेट विस्तार को हाईकोर्ट में चुनौती

इतना ही नहीं पंजाब कैबिनेट विस्तार को हाईकोर्ट में चुनौती भी मिल गई है। वकील जगमोहन भट्टी ने जनहित याचिका दायर करके पंजाब कैबिनेट विस्तार को चुनौती दी है, जिसपर हाईकोर्ट ने आज सुनवाई करने से मना कर दिया और 23 अप्रैल यानी सोमवार को सुनवाई करने की तारीख मुकरर्र की।

नवतेज सिंह भी नाराज, मगर नहीं देंगे इस्तीफा

कैबिनेट विस्तार से कांग्रेस के नेताओं मे नाराजगी का दौर जारी है। कांग्रेस के कई नेता पार्टी छोड़ रहे हैं। एेसे में कांग्रेस के नेता नवतेज सिंह ने कहा कि वो पंजाब कैबिनेट में हुए विस्तार से दुखी हैं, लेकिन पार्टी नहीं छो़ड़ेंगे। उन्होनें कहा कि वो इस मसले पर खुद सीएम कैप्टन अमरेंद्र सिंह से बात करेंगे।

Advertisement

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.