सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन, 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

संजीवनी बूटी भी फेल है इस पौधे के आगे, इतने रोगों को कर देता है जड़ से खत्म

156

एक ऐसे दिव्य चमत्कारी औषधीय पादप गुणों से भरपूर होता है तथा यह हमारे शरीर की बहुत सारी बीमारियों का नाश भी करता है । इस पादप का नाम मदार है, इसे आक भी कहते हैं । ऐसा माना जाता हैं की यह पौधा जहरीला होता हैं और इसकी थोड़ी सी मात्रा नशा पैदा करती हैं । लेकिन इन सब के बावजूद इसके बहुत ही उपयोगी गुण इसमे पाए जाते हैं । आइए जानते हैं मदार के चमत्कारी फायदों के बारे में –

  1. बवासीर – आक के पौधे या फूलों को आग पर रख लें और उससे जो धुआ निकले उससे बबासीर की सेकाई करने से कुछ ही समय में यह रोग जड़ से ख़त्म हो जाता है।
  2. पुरानी खांसी – अगर आप खांसी से बहुत ज्यादा परेशान हैं और बहुत सी दवाएं भी ले चुके है ,फिर भी आपकी खांसी दूर नहीं हो रही है ,तो आक की जड़ को महीन पीस कर उसमें थोड़ी सी काली मिर्च मिला लें। इसके बाद इसकी छोटी-छोटी गोली बना लें। अब इनका सेवन सुबह शाम करने से पुरानी से पुरानी खांसी ठीक हो जाती है।
  3. कांच या कांटा लगने पर -अगर आपके शरीर के किसी भाग में कांच या काँटा लग गया है ,तो उस स्थान पर इससे सफ़ेद रंग के दूध को लगाने से काँटा या कांच अपने आप निकल जाएगा।
  4. नाखून के रोग – अगर आपके नाखून किसी संक्रमण का शिकार हो गए हैं तो आक या मदार के पौधे की जड़ को पानी में पीस कर नाखूनों पर लगाने से यह इस समस्या को समाप्त कर देता है।
  5. शरीर पर चकत्ते पड़ना या खुजली होना – अगर शरीर में खुजली हो रही है और लाल रंग के चकत्ते पद रहे हैं ,तो इसके लिए आक की जड़ को निकाल लें और उसे जला कर राख बना लें। अब उस राख में सरसों का तेल मिलाकर खुजली या चकत्तों वाली जगह पर लगाने से यह समस्या ख़त्म हो जाती है।
  6. गंजापन – जिन लोगों के बाल गिर गयें हैं उनको आक के दूध को गंजे स्थान पर लगाने से बाल उग आते हैं। यह गंजापन का रामबाण उपचार है। ध्यान रहे इसका दूध आँख में नहीं जाना चाहिए नहीं तो आँखे खराब हो सकतीं हैं।

Advertisement

Comments are closed.