सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन, 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

ब्लडप्रेशर, हार्ट अटैक जैसी कई गंभीर बीमारियों को दूर रखता है कटहल

258

कटहल जब कच्चा होता है तो इसे सब्जी के रूप में खाया जाता है और पकने के बाद फल के रूप में खाया जाता है। ये पेड़ पर लगने वाले दुनिया के सबसे बड़े फलों में से एक है। सब्जी के अलावा इसका कोफ्ता, अचार और पकौड़ा भी बनता है। कटहल में कई पौष्टिक तत्व पाए जाते हैं जैसे कैल्शियम, पोटैशियम, आयरन, जिंक, थाइमिन, नियासिन, राइवोफ्लेविन, विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन बी6 आदि। इसमें कैलोरी ज्यादा नहीं होती और फाइबर की मात्रा भरपूर होती है इसलिए इसके खाने से आपको एक्सट्रा कैलोरीज की चिंता करने की भी जरूरत नहीं।

दिल के लिए है फायदेमंद

कटहल में कैलोरी बहुत कम होती है इसलिए दिल के मरीजों के लिए इसे अच्छा माना जाता है। कटहल में पोटैशियम होता है इसलिए ये हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों के लिए भी फायदेमंद है। कटहल खाने से आप दिल की बीमारियों से दूर रहेंगे। इसके फल में विटामिन बी6 होता है जो ब्लड में होमोसिस्टीन के स्तर को कम करता है, जिससे हार्ट अटैक और स्ट्रोक का खतरा कम हो जाता है।

एनर्जी से भरपूर कटहल

कटहल में फ्रक्टोज और सुक्रोज होते हैं इसलिए इसका पका फल खाने से भी आपका ब्लड शुगर नहीं बढ़ता। कटहल में कोलेस्ट्रॉल कम होता है लेकिन एनर्जी भरपूर होती है। पके कटहल के पल्प को मैश करके पानी में उबाल लें और इसे ठंडा करके पियें। इससे आपको इंस्टैंट एनर्जी मिलेगी।

कब्ज से रखता है दूर

कटहल में फाइबर खूब होता है जो शरीर के मल को नरम बनाता है। इससे आपकी पाचन क्रिया ठीक रहती है और पेट साफ रहता है। कटहल आंतों के लिए भी फायदेमंद है। इसको खाने से बवासीर में भी आराम मिलता है।

ब्लड प्रेशर पर रहेगा कंट्रोल

कटहल हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों के लिए अच्छा माना जाता है। हाई बल्ड प्रेशर, शरीर में सोडियम की मात्रा के अधिक हो जाने से होता है। कटहल में पोटैशियम होता है। ये शरीर में सोडियम के स्तर को कम करने में मदद करता है और ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखता है।

हड्डियां रहेंगी मजबूत

कटहल में कैल्शियम और मैग्नीशियम भी प्रचुर मात्रा में होता है इसलिए ये हड्डियों के लिए भी फायदेमंद है। इसके अलावा कटहल में पोटैशियम भी होता है, जो शरीर में कैल्शियम को रोकने में मदद करता है। कैल्शियम और मैग्नीशियम से हड्डियों के घनत्व में सुधार होता है इसलिए इससे ऑस्टियोपोरोसिस जैसी बीमारियों की संभावना भी कम होती है।

Advertisement

Comments are closed.