सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन, 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

बेवजह बिलकुल नहीं रोते है कुत्ते, आपको को देते है एक संदेश, जरूर पढ़ें

769

शास्त्रों के अनुसार कुतो की छठी इंद्री के कारण जब भी मनुष्य किसी विपदा में होता है तो उन्हें पहले ही पता चल जाता है इसलिए वह रोना शुरु कर देते हैं

इसीलिए कुत्ते की रोने की आवाज को अशुभ माना जाता है कुत्ते की रोने की आवाज से मनुष्य को यह पता चल पता चल जाता है कि कुछ बुरा होने वाला है वैसे तो दोस्तों कुत्तों का भौंकना आम बात होती है

जब दिन में कुत्ते आसमान की तरफ देख कर भौकते हैं या रोते हैं तो उसे अशुभ माना जाता है कुत्तों का आसमान की तरफ देख कर रोना भविष्य में सुखे का संकेत होता है

ये दो कारण पर भी ध्यान दें :

कंप्‍लेन करने के लिए

कुत्‍तों को अकेलापन और उपेक्षा बिलकुल पसंद नहीं होता। इसीलिए आप नोटिस कीजिए की कोई अपने पालतू कुत्‍ते को अकेला घर में बंद करके बाहर चला जाये या फिर उसको इग्‍नोर करे तो वे हाउल करते हैं। ये उनका शिकायत करने का तरीका होता है।

काई बार चिढ़ कर या गुस्‍से से

इस चिढ़ और गुस्‍से का ये मतलब नहीं है कि वो किसी को काटना चाह रहे है और गुस्‍से गुर्रा या भौंक रहे हैं। दरसल जब वो किसी चीज से इरिटेट हो रहे हों और अपनी नाराजगी जाहिर करना चाहते हों तो हाउल करते हैं। जैसे कुत्‍तों को तेज आवाजें, किसी खास किस्‍म का लाउड म्‍यूजिक या बर्तनों का पटकना फेंकना बिलकुल अच्‍छा नहीं लगता तो वे हाउल करते हैं।

Advertisement

Comments are closed.