बेचारे बच्चे मां के पास बैठे रहे, जब हत्यारा माँ और नानी की हत्या करके चला गया, बच्चों ने पुलिस को दिया ये बयान

8

जैसा कि आपको पता है कि लॉकडाउन चल रहा है, जहाँ प्रधानमंत्री जी ने सभी को कोरोना वायरस से सावधान रहने के लिए कहा है, सुरक्षा बरतने को कहा है, वहीँ दूसरी तरफ सीहोर बिलकिसगंज के पास फ्रीगंज मोहल्ला में मौत का खेल खेला गया. मंगलवार को जब पुलिस को इस बात की खबर मिली, पुलिस मौके पर पहुंची तो पूरा कमरा खून से लाल पड़ा था, कमरे में 2 लाशें थी. मंजर बहुत ही भयावह था. एक तरफ सुमन (26) की लाश पड़ी थी, वही दूसरी ओर सुमन की लीलाबाई (45) की लाश थी.

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

लाशों पर कुल्हाड़ी से वार किये गए थे. पुलिस ने जब पड़ोसियों से इस घटना की बातचीत की तो वहां से कुछ खास जानकारी हाथ नहीं लगी. सुमन 2 छोटे बच्चे हैं, जिसने ये घटना को देखा तो जब पुलिस ने पूछा तो बच्चों ने बताया कि अंकल, पापा मम्मी की छाती पर बैठकर मार रहे थे और मम्मी रो रही थी.

पुलिस ने बच्चों के कथित बयान पर सुमन के पति को राजमल राठौर को हिरासत में ले लिया है. काफी देर तक पुलिस हत्या की वजह नही बता सकी.

बच्चों ने देखा सबकुछ

बिलकिसगंज के पास फ्रीगंज मोहल्ला ये घटना रात को हुई जब सो रहे थे, हत्यारे ने अपनी पत्नी सुमन और सास लीलाबाई की कुल्हाड़ी से हत्या कर दी और ये सब घटना उसके बच्चे देख रहे थे.,

हत्या की वजह ?

हत्या जिस बेहरमी से की गई थी, क्योंकि शरीर पर घाव बहुत थे, उसे देखकर लोगो कुछ लोगो ने कहा कि कहा कि शायद ये हत्या अवैध संबंधों के कारण हुई होगी.

जब आरोपी से पूछा तो

इलाके के एसपी समीर यादव इस केस की जांच पड़ताल रहे थे उन्होंने बताया कि हम बारीकी से जांच कर रहे हैं और जल्दी ही इस केस का खुलासा होगा. लेकिन आरोपी कुछ और ही कह रहा था. उसने कहा कि में मैं घटना के समय अपने घर में ही नहीं था, इसलिए मैंने यह अपराध नहीं किया है।

Advertisement

Comments are closed.