बजरंग बाण के कुछ ख़ास उपाय | Bajrang Baan Ke Upaay

0 357

Bajrang Baan Ke Upaay | भगवान हनुमान को कलियुग के देवता कहा जाता है। मान्यता है कि बजरंगबली बड़ी ही जल्दी प्रसन्न होने वाले देवता है और इनकी पूजा आराधना करने से भक्त की सभी मनोकामनाएं पूरी हो जाती हैं। चाहे समस्या कितनी भी बड़ी हो अगर हनुमानजी की सच्चे मन से स्मरण करें तो हर समस्या सुलझ सकती है। बजरंग बाण का पाठ करने से कई तरह के कष्टों से मुक्ति मिल सकती है, आइए जानते है बजरंग बाण के कुछ ऐसे ही ख़ास उपाय।

यह भी पढ़ेश्रीरामचरित मानस की संकटमोचन चौपाइयां

Bajrang Baan Ke Upaay

बजरंग बाण के कुछ ख़ास उपाय | Bajrang Baan Ke Upaay

1. विवाह में आ रही बाधा खत्म करने के लिए
कदली वन, या कदली वृक्ष के नीचे बजरंग बाण का पाठ करने से विवाह की बाधा खत्म हो जाती है। यहां तक कि तलाक जैसे कुयोग भी टलते हैं बजरंग बाण के पाठ से।

2. ग्रहदोष समाप्ति के लिए
अगर किसी प्रकार के ग्रहदोष से पीड़ित हों, तो प्रात:काल बजरंग बाण का पाठ, आटे के दीप में लाल बत्ती जलाकर करें। ऐसा करने से बड़े से बड़ा ग्रह दोष पल भर में टल जायेगा।

3. साढ़ेसाती-राहु आदि के दोष दूर करने के लिए
अगर शनि,राहु,केतु जैसे क्रूर ग्रहों की दशा,महादशा चल रही हो तो उड़द दाल के 21 या 51 बड़े एक धागे में माला बनाकर चढ़ायें। सारे बड़े प्रसाद के रुप में बांट दें। आपको तिल के तेल का दीपक जलाकर सिर्फ 3 बार बजरंगबाण का पाठ करना होगा।

4. बजरंगबाण से कारागार से मुक्ति
अगर किसी कारणवश जेल जाने के योग बन रहे हों, या फिर कोई संबंधी जेल में बंद हो तो उसे मुक्त कराने के लिए हनुमान जी की पूंछ पर सिंदूर से 11 टीका लगाकर 11 बार बजरंग बाण पढ़ने से कारागार योग से मुक्ति मिल जाती है। अगर आप हनुमान जी को 11 गुलाब चढ़ाते हैं या फिर चमेली के तेल में 11 लाल बत्ती के दीपक जलाते हैं तो बड़े से बड़े कोर्ट केस में भी आपको जीत मिल जायेगी।

5. सर्जरी और गंभीर बीमारी टालने के लिए
कई बार पेट की गंभीर बीमारी जैसे लीवर में खराबी, पेट में अल्सर या कैंसर जैसे रोग हो जाते हैं, ऐसे रोग अशुभ मंगल की वजह से होते हैं। अगर इस तरह के रोग से मुक्ति पानी हो तो हनुमान जी को 21 पान के पत्ते की माला चढ़ाते हुए 5 बार बजरंग बाण पढ़ना चाहिये। ध्यान रहे कि बजरंगबाण का पाठ राहुकाल में ही करें। पाठ के समय घी का दीप ज़रुर जलायें।

6. छूटी नौकरी दोबारा प्राप्त करने के लिए
अगर नौकरी छूटने का डर हो या छूटी हुई नौकरी दोबारा पानी हो तो बजरंगबाण का पाठ रात में नक्षत्र दर्शन करने के बाद करें। इसके लिए आपको मंगलवार का व्रत भी रखना होगा। अगर आप हनुमान जी को नारियल चढ़ाने के बाद, उसे लाल कपड़े में लपेट कर घर के आग्नेय कोण रखते हैं तो मालिक स्वयं आपको नौकरी देने आ सकता है।

7. वास्तुदोष दूर करने के लिए
कई बार घर में वास्तुदोष के चलते कई समस्या हो जाती है। तो घर में वास्तुदोष दूर करने के लिए 3 बार बजरंगबाण का पाठ करना चाहिए। हनुमान जी को लाल झंडा चढ़ाने के बाद उसे घर के दक्षिण दिशा में लगाने से भी वास्तुदोष से मुक्ति मिलती है। घर में सकारात्मक ऊर्जा के लिए पंचमुखी हनुमान की प्रतिमा घर के मुख्य द्वार पर लगायें।

8. बजरंग बाण से दवा असर करे
कई बार गंभीर बीमारी में दवा फायदा नहीं करती। दवा फायदा करे इसके लिए 2 बार बजरंग बाण का पाठ करना चाहिए। साथ ही साथ संजीवनी पर्वत की रंगोली बनाकर उस पर तुलती के 11 दल चढ़ाने से दवा धीरे धीरे असर करने लगती है।

अन्य सम्बंधित लेख-

Loading…

Related posts:


आर्थिक तंगी दूर करने के लिए हनुमानजी के सामने करें 11 पीपल के पत्तों का यह उपाय


यदि चाहते है भाग्य का साथ तो करे पीपल से सम्बंधित ये ज्योतिष उपाय


Graho Ke Ashuhb Prabhav Door Karne Ke Upayज्योतिष उपाय – ग्रहों के अशुभ प्रभाव दूर करने के लिए पलंग के नीचे रखे ये चीज़ें


शनिदेव के लिए शनिवार को करें ये उपाय, मिलेंगे शुभ फल


अशुभ मंगल की वजह से होती है यह परेशानियां | दूर करने के उपाय


How to avoid bad dreams in Hindiबुरे सपनों से बचने के उपाय | डरावने सपनो से छुटकारा पाने के उपाय


ज्योतिष उपाय- इन 9 में से कोई भी 1 उपाय करने से चमक सकती है किस्मत


Jyotish upay of Chapati (Roti)ज्योतिष उपाय- रोटी के ये उपाय करते रहने से मिलते हैं शुभ फल


गुरुवार के उपाय | बृहस्पतिवार के उपाय


Dhanteras Ke Upay | धनतेरस के उपाय


सप्ताह के सात दिन के उपाय – शिवपुराण के अनुसार


धन लाभ के लिए रोज़ करे शिव पुराण में बताया गया यह आसान उपाय


हनुमान जयंती पर हनुमानजी को प्रसन्न करने के उपाय


इस उपाय से सपने में दर्शन देते हैं हनुमानजी


देवशयनी एकादशी के उपाय | Devshyni Ekadashi Ke Upay
Original Article

Advertisement

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.