सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन, 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

घर को सुरक्षित रखने के 15 टिप्स, आज ही करे ये उपाय

10
  1. बहुत मुश्किल से आपने घर में सामान जुटाए हैं। इसकी हिफाजत करने के लिए जरूरी है कि कभी भी लापरवाही ना बरतें। किसी बाहर वाले पर यकीन ना करें। खासकर अगर कोई यह कह रहा है कि वह घर बैठे आपके सोने के गहने पॉलिश कर देगा या आपके पुराने नोट ले कर आपको नए नोट देगा। ये सब ठगी के तरीके हैं।
  2. आगे और पीछे के दोनों दरवाजों पर सिक्योरिटी लॉक लगाने की जगह डेथ बोल्ट लगवाएं। ये तालों की अपेक्षा ज्यादा मजबूत होते हैं और इन्हें आसानी से तोड़ा नहीं जा सकता है। इन्हें आप खिड़कियों पर भी लगा सकती हैं।
  3. अपने घर के चारों ओर एक बाड़ लगवाएं। यह आपकी सुरक्षा की सबसे पहली रेखा है जिसे चोरों के लिए तोड़ना आसान नहींहोता है। इसके लिए आप कांटेदार या टेढ़े-मेढ़े तारों का इस्तेमाल कर सकती हैं।
  4. अगर घर में अंधेरा रहता हो तो ऐसे घर पर चोरों की नजर सबसे अधिक रहती है, इसलिए अपने घर, बालकनी या कंपाउंड में पर्याप्त रोशनी का इंतजाम करें।
  5. सुरक्षा के लिए घर में कुत्ता रखना एक बेहतरीन आइडिया है। खासकर अगर आप ग्राउंड फ्लोर पर रहती हैं। कुत्ता किसी अजनबी के घर में घुसने की कोशिश करने पर आपको तुरंत सतर्क कर सकता है।
  6. मेड, घर के नौकर या अपरिचितों के सामने कभी भी अपनी अलमारियां न खोलें। चाहे वह कितने ही वर्षों से आपके यहां काम कर रहा हो, अपनी ज्वेलरी, पैसे या अन्य कीमती वस्तुएं उनके सामने न निकालें और उनके सामने पैसों के लेन-देन के बारे में भी बात न करें।
  7. आपकी मेड अगर किसी को अपने साथ लेकर आए या अपना रिश्तेदार कह आपसे मिलवाए तो उसे अंदर आने की इजाजत न दें। हो सकता है, इस बहाने वह आपका घर और सामान उसे दिखा रही हों।
  8. अगर आप शहर से बाहर जा रही हों तो मेड को यह न बताएं कि आप कितने दिनों में आएंगी। उसे कहें कि एक-दो दिन में लौट आएंगी या रात में आपके रिश्तेदार वहां रहेंगे।
  9. अपने सारे कीमती सामान पर अपने साइन कर दें। इससे अगर आपके न रहने पर चोरी होती भी है तो सामान मिलने में आसानी रहेगी।
  10. अगर आपके बच्चे घर में अकेले रहते हों तो उनकी सुरक्षा के लिए खिड़की और बालकनी पर बनी रेलिंग (लोहे की जाली) कम से कम 42 इंच ऊंची बनवाएं। रेलिंग के दो रॉड्स के बीच 4 इंच से ज्यादा का गैप न रखें, वरना बच्चा खेलते हुए रॉड्स के बीच अपना सिर फंसा सकता है।
  11. बच्चों को कोई बात याद दिलाने के लिए सॉफ्ट बोर्ड पर नोट्स पिन करने के बजाय मैग्नेटिक बोर्ड या एग्नेलिक शीट का इस्तेमाल करें। सॉफ्ट बोर्ड पर लगे पिन्स बच्चे को चोट पहुंचा सकते हैं।
  12. बच्चे के कमरे में लॉकिंग सिस्टम न रखें। अगर लॉकिंग सिस्टम रखना ही है तो टावर बोल्ट लॉकिंग सिस्टम का प्रयोग करें। सामान्य लॉकिंग सिस्टम में बच्चा खुद को कमरे में लॉक कर सकता है।
  13. आपके घर के आसपास क्या हो रहा है, इसके बारे में जानकारी रखें। इससे संदिग्ध घटनाओं व व्यक्तियों पर आप नजर रख सकेंगी।
  14. घर में अगर स्लाइडिंग दरवाजे-खिड़कियां हैं, तो उसे लॉक करने की भी पर्याप्त व्यवस्था करें। स्लाइडिंग ट्रैक पर स्टील का पोल भी लगवाएं।
  15. अपने कीमती सामान और उनके सीरियल नंबर को नोट करके रखें। अपने वेल्यूबल डॉक्यूमेंट्स जैसे इंश्योरंस पॉलिसी, बैंक के पेपर सेफ्टी डिपोजिट बॉक्स में रखें।
  16. बाथरूम में थर्मोस्टैट लगवाएं और गरम पानी का तापमान हमेशा नियंत्रित रखें। इससे बच्चा आपके न होने पर भी बाथरूम के पानी से अगर खेलता है तो कोई दुर्घटना नहीं घटेगी।

Advertisement

Comments are closed.