सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन, 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

गर्भनिरोधक गोलियों का सेवन होता है खतरनाक, जाने कारण

12
हेल्थ डेस्क: साइंस की बात करें तो आज के समय में बहुत सी महिलाएं ऐसी हैं जो अनचाहे गर्भ को रोकने के लिए गर्भनिरोधक गोलियों का सेवन करती हैं। जो महिलाओं के लिए खतरनाक होता हैं। इससे महिलाओं के शरीर में कई तरह के परेशानियां जन्म ले लेती हैं। आज जानने की कोशिश करेंगे की गर्भनिरोधक गोलियों का सेवन क्यों खतरनाक होता हैं। साथ ही साथ ये भी जानने की कोशिश करेंगे की इससे शरीर पर क्या प्रभाव पड़ता हैं। तो आइये जानते हैं विस्तार से।
1 .सिर दर्द, गर्भनिरोधक गोलियों के सेवन से महिलाओं के सिर में दर्द की समस्या बनी रहती हैं। क्यों की गर्भनिरोधक गोलियों के सेवन से दिमाग में स्ट्रेस हार्मोन्स का लेवल बढ़ जाता हैं। जिससे महिला को सिर दर्द की समस्या होती हैं और दिमाग में चिड़चिड़ापन की समस्या जन्म ले लेती हैं। गर्भनिरोधक गोलियों के सेवन से अगर किसी महिला को सिर दर्द की समस्या होती हैं तो उसे डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए ताकि इस समस्या से छुटकारा मिल सके। 
 
2 .जी मिचलाना, गर्भनिरोधक गोलियों के अधिक सेवन से महिलाओं का पाचन तंत्र कमजोर हो जाता हैं। जिससे महिलाओं का जी मिचलाने लगता हैं और महिलाएं शारीरिक रूप से कमजोर हो जाती हैं। इसलिए गर्भनिरोधक गोलियों का सेवन महिलाओं के लिए खतरनाक होता हैं। इससे महिलाएं सदैव सावधान रहें और गर्भनिरोधक गोलियों का सेवन डॉक्टर की सलाह लेकर ही करें। 
 
3 .वजन बढ़ना, गर्भनिरोधक गोलियों के अधिक सेवन से शरीर में फ्लूइड रिटेंशन बढ़ जाता हैं। जिसके कारण महिलाओं के वजन में बढ़ोत्तरी होने लगती हैं। जो महिलाओं के लिए खतरनाक होता हैं। अगर किसी महिला का वजन गर्भनिरोधक गोलियों के सेवन से बढ़ता हैं तो आप सबसे पहले डॉक्टर की सलाह लें ताकि इस समस्या से छुटकारा मिल सके। 
 
4 .गर्भधारण करने में परेशानी, अधिक गर्भनिरोधक गोलियों के सेवन से महिलाओं के शरीर में प्रोजेस्टेरोन हार्मोन्स का लेवल कम जाता हैं। जिससे गर्भाशय में अंडे की गुणवत्ता ख़राब हो जाती हैं। इससे महिलाओं को गर्भधारण करने में परेशानी होती हैं। इसलिए गर्भनिरोधक गोलियों का सेवन खतरनाक माना जाता हैं। महिलाएं गर्भनिरोधक गोलियों का सेवन डॉक्टर की सलाह ले कर ही करें। 
 
5 .तनाव और डिप्रेशन, गर्भनिरोधक गोलियों के सेवन से महिलाएं तनाव और डिप्रेशन का शिकार हो जाती हैं। गर्भनिरोधक गोलियों के सेवन से दिमाग का न्यूरो सिस्टम कमजोर हो जाता हैं। जिससे सोचने समझने की शक्ति भी प्रभावित होती हैं। इससे महिलाएं धीरे धीरे तनाव में आ जाती हैं और उनकी मानसिक स्थिति ख़राब हो जाती हैं। इसलिए महिलाएं गर्भनिरोधक गोलियों का सेवन बिल्कुल भी ना करें। इसका सेवन सदैव डॉक्टर की सलाह लेकर ही करें। 

Advertisement

Comments are closed.