सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन, 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

आपका बॉडी बिल्डिंग प्रोटीन पाउडर असली है या नकली ऐसे करें परीक्षण

71

बॉडी बनाने के फेर में अक्‍सर लोग ऐसी गलतियां कर बैठते हैं जिसका खामियाजा अपनी सेहत को गवांकर चुकाना पड़ता है। इनमें से एक है गलत प्रोटीन पाउडर का चुनाव।

Related Posts

शनि के कोप से बचना हैं तो शनिवार को भूलकर भी न करें ये 4 काम

कई लोग सस्‍ते सप्‍लीमेंट के चक्‍कर में मिलावटी प्रोटीन का सेवन करने लग जाते हैं जिसका प्रभाव काफी हानिकारक होता है। यहां हम आपको ऐसी ही कुछ बातें बताने जा रहे हैं जिससे आप पता कर पाएंगे कि आपका प्रोटीन पाउडर असली है या नकली?

इसके लिए आप एक चम्‍मच प्रोटीन पाउडर को एक ग्‍लास पानी में पानी में घोल दें। अगर वह पूरी तरह नहीं घुला तो वह नकली सपलीमेंट है, क्योंकि असली प्रोटीन पानी में पूरी तरह से मि‍क्स हो जाता है।

बॉडी बिल्डिंग प्रोटीन पाउडर को पानी में डालकर टेस्‍ट करें। अगर प्रोटीन बेस्वाद लगता है और सिर्फ उसमें मीठापन आता है, तो वह नकली हो कता है। इस तरह का प्रोटीन रेत जैसा लगे तो भी मान लें कि नकली है। अगर आपको लगे कि बस मीठा पानी पी रहे हैं तो मान लें कि प्रोटीन नकली है।

नकली प्रोटीन में प्रोटीन की मात्रा न के बराबर होती है, बल्कि इसका असर दिखाने के लिए इसमें दो तरह की दवाएं डाली जाती हैं। इनमें एक दवा ऐसी है जिससे वाटर रिटेंशन होता है और दूसरी से भूख बढ़ती है। इसका असर 30 दिन में ही दिखने लगता है।

Advertisement

Comments are closed.