सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन, 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

आखिर ये Y, Z और Z+ सिक्योरिटी क्या होती है? किसमें कितने कमांडो होते है ?

6

आपने अक्सर खबरों में तो सुना ही होगा कि उस नेता को ये सिक्योरिटी दी गयी या फिर इस नेता से ये सिक्योरिटी छीन ली गयी तो ये किस तरह की सिक्योरिटी होती है और ये लोग इसके लिए इतना क्यों तरसते है? दरअसल ये सुरक्षा व्यवस्थायें देश के सबसे बड़े वीआईपी लोगो को सुरक्षित रखने के लिए दी जाती है ताकि उनका जीवन सुरक्षा घेरे में रह सके ऐसे में फिलहाल देश भर में लगभग 450 लोग को इस तरह की सुरक्षा दी जाती है और इनमें से 15 लोग ऐसे है जिन्हें Z प्लस की सुरक्षा मिली हुई है।

After all, what is Y, Z and Z + security How many commandos are there

अब बात सबसे पहले सबसे हाई लेवल की सुरक्षा की करते है जो Z+ है, ये सुरक्षा सिर्फ देश में 15 लोगो को मिली हुई है जिनमे पीएम मोदी भी शामिल है और इस सुरक्षा प्रणाली में सुरक्षा के लिए 36 जवान लगाये जाते है जिनमें से 10 एनएसजी और एसपीजी के कमांडो होते है।

इनके अलावा बाकी के सारे लोग पुलिस के जवान होते है जो इन कमांडोज के कमांड्स पर काम करते है। इसके बाद दूसरे नम्बर पर आती है Z श्रेणी की सुरक्षा इस श्रेणी में भी कुल 22 जवान होते है इसमें दिल्ली पुलिस और सीआरपीएफ के जवान होते है जबकि इसके बाद आने वाली Y श्रेणी की सुरक्षा में मात्र 11 जवान होते है और इनमे से दो लोग पर्सनल सिक्यूरिटी ऑफिसर के पद पर तैनात होते है। जबकि X केटेगरी की सुरक्षा में सिर्फ दो जवान ही अलोट किये जाते है जो कि उनके बॉडीगार्ड के रूप में कार्य करते है और रक्षा प्रदान करते है।

After all, what is Y, Z and Z + security How many commandos are there

सुरक्षा व्यवस्था को लेकर कुछ साल पहले एक हादसा भी हुआ था जब केंद्र सरकार ने लालू प्रसाद यादव से उनकी सिक्योरिटी छीन ली थी जिसे लेकर के उनके बेटे ने पीएम मोदी के लिए अभद्र भाषा का भी प्रयोग किया था क्योंकि नेताओं में सिक्योरिटी जाने का मतलब खून सूख जाने जैसा है।

Advertisement

Comments are closed.